आखिर कैसे बन गए टीम इंडिया के 'वसीम भाई', किसने दिया ये नाम, अक्षर पटेल ने किया खुलासा

Axar Patel: टीम इंडिया के अक्षर पटेल ने इंग्‍लैंड के खिलाफ डे/नाइट टेस्‍ट में गजब का प्रदर्शन करते हुए 11 विकेट चटकाए। मैच के बाद पटेल ने खुलासा किया कि आखिर किसने उन्‍हें वसीम भाई नाम दिया।

axar patel
अक्षर पटेल 

मुख्य बातें

  • अक्षर पटेल ने रिषभ पंत के वसीम भाई कहने का राज खोला
  • पटेल ने इंग्‍लैंड के खिलाफ डे/नाइट टेस्‍ट में कुल 11 विकेट चटकाए
  • पटेल को उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए प्‍लेयर ऑफ द मैच चुना गया

अहमदाबाद: भारत और इंग्‍लैंड के बीच पिछले दो टेस्‍ट में विकेट के पीछे से एक आवाज बहुत बार सुनने को मिली। टीम इंडिया के विकेटकीपर रिषभ पंत अपने साथी अक्षर पटेल को 'वसीम भाई' बुला रहे थे। स्‍टंप माइक पर रिषभ पंत का अक्षर पटेल को वसीम भाई कहना कई बार कैद हुआ। मैच के बाद मुरली कार्तिक से बात करते हुए अक्षर पटेल ने इस अनोखे ना की असली वजह का खुलासा किया।

अक्षर पटेल ने कहा, 'जब भी मैं आर्म-बॉल डालता हूं तो रिषभ पंत बोलता है कि यह वसीम भाई (वसीम अकरम) जैसी आती है। अजिंक्‍य रहाणे ने मुझे यह नाम दिया था। उन्‍होंने कहा कि बल्‍लेबाज को अंदर आने वाली गेंद की गति एकदम वसीम अकरम जैसी रहती है। रिषभ ने ये बात जबसे सुनी, तब से वो मुझे वसीम भाई बुलाने लगा।'

अक्षर पटेल ने अहमदाबाद में खेले गए डे/नाइट टेस्‍ट में शानदार प्रदर्शन करते हुए प्‍लेयर ऑफ द मैच का खिताब जीता। अक्षर पटेल ने 70 रन देकर 11 विकेट जीता, जो कि पिंक बॉल का सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है। अक्षर पटेल अपना केवल दूसरा टेस्‍ट खेल रहे थे। चेन्‍नई में खेले गए दूसरे टेस्‍ट में डेब्‍यू करते हुए अक्षर ने कुल 7 विकेट चटकाए थे। अक्षर पटेल ने कहा कि वह अपना पूरा ध्‍यान सिर्फ लय बरकरार रखने पर रख रहे हैं।

अक्षर पटेल ने कहा, 'जब हर चीज हो रही है तो योजना आसान लगती है। वरना यह मुश्किल लगता है। मैं ज्‍यादा नहीं सोच रहा हूं। अपने फॉर्म को बरकरार रखने पर ध्‍यान दे रहा हूं।' अक्षर पटेल जिस गति से गेंदबाजी करते हैं, वह भी देखने लायक है। बाएं हाथ के स्पिनर निरंतर 90 किमी प्रति घंटे की गति से गेंदबाजी करते हैं। उनकी गति ने कई बार इंग्लिश बल्‍लेबाजों को परेशान किया। 

27 साल के अक्षर पटेल ने कहा, 'जब भी गेंदबाजी करता हूं तो विकेट पर गेंद डालने की कोशिश करता हूं। मैं बल्‍लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने देना चाहता हूं। अगर बल्‍लेबाज ने गलती की तो मुझे विकेट मिल जाता है। आज अगर बल्‍लेबाज कुछ मेडन करता है, तो फिर वह स्‍वीप या हवाई शॉट खेलने की कोशिश करता है। डॉट बॉल डालने से बल्‍लेबाज पर दबाव बनता है और इससे विकेट मिल जाता है।'

तेज गेंद फेंकने पर विश्‍वास रखते हैं अक्षर पटेल

अक्षर पटेल ने कहा कि वह जरूरत पड़ने पर और भी तेज गेंदें डाल सकते हैं। अक्षर पटेल ने दो टेस्‍ट में 18 विकेट चटकाए और वह इसी लय को बरकरार रखना चाहते हैं। उन्‍होंने कहा, 'मैं दोनों तेज और धीमें गेंदबाजी कर सकता हूं। मगर अभी के लिए मेरा पूरा ध्‍यान निरंतर बेहतर प्रदर्शन करने पर लगा है। मुझे उम्‍मीद है कि अगले मैच में भी इस तरह का विकेट मिले ताकि इसी तरह का प्रदर्शन दोबारा कर सकूं।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर