स्टीव स्मिथ को फिर से कप्तान बनाए जाने के बारे में टिम पेन ने दिया ये बयान

ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा टेस्ट कप्तान टिम पेन ने स्टीव स्मिथ के हाथों में दोबारा टीम की कमान सौंपे जाने के मसले पर अपनी राय रखी है जानिए उन्होंने क्या कहा।

Steve Smith Tim Paine
Steve Smith Tim Paine  

मुख्य बातें

  • स्टीव स्मिथ पर लगा कप्तानी करने पर लगा दो साल का प्रतिबंध 29 मार्च को समाप्त हुआ
  • इसके बाद से ऑस्ट्रेलिया में शुरू हो गई उन्हें दोबारा कप्तान बनाए जाने की चर्चा
  • ऐसे में मौजूदा टेस्ट कप्तान टिप पेन ने इस मसले पर अपनी राय रखी है

सिडनी: मार्च 2018 में हुए बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने टीम के तत्कालीन कप्तान स्टीव स्मिथ के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया था। इसके अलावा उनपर दो साल तक टीम का दोबारा कप्तान नहीं बनने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया थो जो कि हाल ही में (29 मार्च को) समाप्त हो चुका है। ऐसे में एक बार फिर से ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट गलियारों में स्मिथ के हाथों में दोबारा टीम की कमान सौंपने की चर्चा शुरू हो गई है। 

दो साल का था कप्तानी पर प्रतिबंध
स्मिथ को द. अफ्रीका के बीच दौरे से कप्तानी से हटाए जाने के बाद उन्हें स्वदेश वापस भेज दिया गया था ऐसे में आपात स्थिति में टीम की कमान विकेटकीपर टिम पेन के हाथों में सौंपी गई थी। इसके बाद आगे चलकर एरोन फिंच के हाथों में टीम की सीमित ओवरों की टीम की कमान दे दी गई। ऐसे में दो साल में ऑस्ट्रेलियाई टीम को दोबारा वापसी करने कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर लगे एक साल के प्रतिबंध के खत्म होने के बाद ही कंगारू टीम पुराने रंग में नजर आई। ऐसे में स्मिथ ने ऐशेज सीरीज में ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए अपनी टीम का अपनी टीम का ट्ऱॉफी पर कब्जा बरकरार रखने में अहम योगदान दिया। 

स्मिथ को कप्तान बनाए जाने का करूंगा समर्थन 
ऐसे में टेस्ट टीम के मौजूदा कप्तान टिम पेन 36 साल के हो चुके हैं। उन्होंने ये स्वीकार किया कि कप्तानी को लेकर उनकी किसी भी खिलाड़ी के साथ गंभीर चर्चा नहीं हुई है। ऐसे में वो एक बार फिर स्मिथ को कप्तान बनाए जाने का समर्थन करेंगे। पेन ने कहा, मेरी स्मिथ से इस बारे में चर्चा नहीं हुई है लेकिन मैं आगे ऐसा करूंगा। मुझे इस बारे में कोई संदेह नहीं है कि स्मिथ को कप्तानी करना पसंद है और वो इंडियन प्रीमियर लीग में राजस्थान रॉयल्स की कमान संभाल रहे हैं और इंग्लैंड में शुरू हो रहे दि हंड्रेड टूर्नामेंट में भी कप्तानी करने जा रहे हैं। पेन ने आगे कहा, यदि स्टीव स्मिथ ये निर्णय कर लेते हैं कि उन्हें इस रास्ते पर चलना है तो मैं उनका पूरी तरह समर्थन करूंगा।

रद्द हो सकती है ऑस्ट्रेलिया बांग्लादेश टेस्ट सीरीज ​ 
ऑस्ट्रेलिया को अगली सीरीज जून में बांग्लादेश के खिलाफ खेलनी है जो कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है। इस सीरीज में दो टेस्ट मैच खेले जाने हैं। ऐसे में कोरोना वायरल की वजह से जो स्थितियां बन रही हैं उन्हें देखकर पेन को लगता है कि ये सीरीज या तो रद्द हो जाएगी या इसके कार्यक्रम में बदलाव होगा। उन्होंने कहा, इसके लिए आपको आइन्सटाइन नहीं बनना पड़ेगा संभवत: मौजूदा परिस्थितियों में उस सीरीज का आयोजन संभव नहीं है। या तो उसके कार्यक्रम में बदलाव होगा या फिर उसे रद्द कर दिया जाएगा।'

गंवा देंगे भारत को पछाड़ने का मौका
उन्होंने आगे कहा, मेरा मामना है कि सभी खिलाड़ी चाहेंगे कि किसी भी तरह वो सीरीज हो जाए। लेकिन यदि ऐसा नहीं होता है तो दुनिया में फिलहाल और बड़े मसले हैं यदि कुछ टेस्ट मैच नहीं होंगे तो कोई कोई बड़ा नुक्सान नहीं होगा। यदि बांग्लादेश सीरीज रद्द हो जाती है तो ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की अंकतालिका में भारत को पछाड़ने का मौका गंवा देगी। हालांकि पेन को इस बात का यकीन है कि टेस्ट चैंपियनशिप के कार्यक्रम के पुनर्निर्धारण से खिलाड़ियों को ऊपर जीत का दबाव नहीं बढ़ेगा।

टेस्ट चैंपियनशिप जीतना है टीम का लक्ष्य  
कंगारू कप्तान ने आगे कहा, फिलहाल कुछ सीरीज रद्द हो चुकी हैं और कुछ और के साथ ऐसा हो सकता है या फिर उनके कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जा सकता है इस बारे में भी अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है। आगे ऐसी स्थिति भी आ सकती है जब टेस्ट चैंपियनशिप को पूर्व निर्धारित फॉर्मेट के अनुरूप खत्म करने पर सहमति बनेगी तो  खिलाड़ियों को आने वाले समय में बहुत सारी क्रिकेट खेलनी पड़ सकती है। पेन ने अंत में कहा, हमारी टीम को कुछ लक्ष्य हैं जिसमें से एक आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में खेलना और जीतना शामिल है। हमने उसके अलावा और कुछ उसके बारे में नहीं सोचा है।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर