कोरोना के बाद कैसा होगा क्रिकेट, अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली कमेटी करेगी चर्चा

कोरोना वायरस के कहर के बीच क्रिकेट की शुरुआत की सुगबुगाहट शुरू हो चुकी है ऐसे में अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली आईसीसी की क्रिकेट कमिटी( ICC Cricket Committee) क्रिकेट के नए नियमों पर चर्चा करने जा रही है।

ICC
ICC 

मुख्य बातें

  • सोमवार को होगी आईसीसी की क्रिकेट किमिटी की बैठक, जिसके अनिल कुंबले हैं अध्यक्ष
  • गेंद को चमकाने के लिए लार और पसीने के इस्तेमाल पर पाबंदी पर होगी चर्चा
  • 28 मई को आईसीसी बोर्ड की बैठक में बदलावों और नए नियमों पर होगी चर्चा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस का कहर अभी थमा नहीं है लेकिन इस जानलेवा वायरस के डर के साये में खेलों की शुरुआत हो चुकी है। यूरोप में जर्मन फुटबॉल लीग बुंदेसलीगा का आगाज हो चुका है। वहीं क्रिकेट के खिलाड़ी भी मैदान में उतरने को तैयार हैं। वेस्टइंडीज में टी10 लीग शुरू होने जा रही है। वहीं ऑस्ट्रेलिया में भी 6 जून से क्लब क्रिकेट की शुरुआत होने जा रही है। 

कोरोना वायरस का पूरी दुनिया में जीवन के विभिन्न पहलुओं पर व्यापक असर पड़ा है। ऐसे में क्रिकेट सहित खेलों की दुनिया में भी बड़े बदलाव होने वाले हैं। हालांकि क्रिकेट संपर्क वाला खेल नहीं है बावजूद इसके पारंपरिक तौर पर खेल में बड़े बदलाव हो सकते हैं। जिसमें सबसे बड़ा बदलाव गेंद को चमकाने के लिए जाने वाले लार और पसीने का इस्तेमाल पर पाबंदी के रूप में हो सकता है। 

ऐसे में आईसीसी की क्रिकेट कमिटी की मीटिंग सोमवार को होने जा रही है। अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली इस समिति को फैसले करना है कि जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की कोरोना के बाद वापसी होगी तो खिलाड़ियों को कौन से नियमों और प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। 

मेडिकल एडवाइजरी कमिटी के मुखिया भी होंगे शामिल
आईसीसी की मेडिकल एडवाइजरी कमिटी के मुखिया डॉक्टर पीटर हारकोर्ट भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली इस मीटिंग में शामिल होंगे। इस बैठक के दौरान सभी लोग कोरोना महामारी को पीछे छोड़कर आगे बढ़ने के लिए अपने अपने सुझाव साझा करेंगे। वहीं क्रिकेट कमिटी को विभिन्न पहलुओं पर गौर करने के बाद इस बारे में फैसला करना है कि गेंद को चमकाने के लिए लार और पसीने के इस्तेमाल को जारी रखा जाए या नहीं। इस बारे में मेडिकल एडवाइजरी समिति से वो सलाह लेगी।

लार और पसीने के इस्तेमाल पर लगातार हो रही है चर्चा
मेडिकल पैनल ने पिछले महीने सीईओ की बैठक के दौरान कहा था कि गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल करना घातक है। इसके बाद से ही इस विषय पर क्रिकेट के गलियारों में लगातार चर्चा हो रही है। हर कोई क्रिकेट के लिए सुरक्षा उपायों को लेकर विचार कर रहा है। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने पहले ही गेंद पर लार और पसीने के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है।

बॉल टेंपरिंग के नियमों पर होगा बदलाव
पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और दिग्गज गेंदबाद वकार यूनिस ने इस बारे में कहा था कि खिलाड़ियों के लिए उन बदलावों को व्यवहार में ला पाना मुश्किल होगा जो कि सालों से उनकी आदत बन चुका है। ऑस्ट्रेलिया के बॉल निर्माता कुकाबुरा ने दावा किया है कि उन्होंने एक वैक्स एप्लायर बना लिया है जिसका गेंद को चमकाने में उपयोग किया जा सकता है। ऐसे में कहा जा रहा है कि बैठक में गेंद को चमकाने के लिए कृत्रिम पदार्थ के उपयोग को वैध बनाने पर चर्चा हो सकती है।

कमिटी में कुंबले के साथ हैं ये दिग्गज
आईसीसी की क्रिकेट कमिटी में अनिल कुंबले के अलावा इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रर्यू स्टॉस, श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने, भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़, ऑस्ट्रेलिया के टिम में, मिकी आर्थर, श्रीलंका के रंजन मदुगले और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान शॉन पोलक जैसे दिग्गद शामिल हैं। 

क्रिकेट कमिटी मेडिकल पैनल से मैदान पर पारंपरिक रूप से मैदान पर विकेट का जश्न मनाने के तरीकों में भी बदलाव पर चर्चा करेगी। इसके अलावा कोरोना के बाद मैदान पर वापसी से पहले ट्रेनिंग के लिए प्रोटोकॉल पर भी चर्चा होगी। इस बैठक का जो भी निष्कर्ष निकलेगा उसे स्वीकृति के लिए आईसीसी बोर्ड के सामने रखा जाएगा जिसका आयोजन 28 मई को होना निर्धारित है।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर