अजिंक्य रहाणे ने खोला राज, गाबा में कुलदीप की जगह वॉशिंगटन सुंदर को क्यों चुना?

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को धमाकेदार अंदाज में टेस्ट सीरीज जिताने वाले अजिंक्य रहाणे ने खोला राज बताया चौथे टेस्ट में कुलदीप की बजाए क्यों दिया वॉशिंगटन सुंदर को मौका।

Washington Sunder
वॉशिंगटन सुंदर  

मुख्य बातें

  • ब्रिस्बेन में खेले गए सीरीज को चौथे और निर्णायक मुकाबले में टीम इंडिया ने दिया वॉशिंगटन सुंदर को मौका
  • सुंदर ने ऑलराउंड प्रदर्शन करके टीम इंडिया की जीत में अदा की अहम भूमिका
  • रहाण ने अब जाकर कुलदीप यादव की जगह वॉशिंगटन को एकादश में शामिल किए जाने का राज खोला है

चेन्नई: भारतीय क्रिकेट टीम की ऑस्ट्रेलिया में लगातार दूसरी टेस्ट सीरीज जीत के बाद दुनियाभर में तारीफ हो रही है। टीम इंडिया ने ये जीत अपने दिग्गज खिलाड़ियों के लगातार चोटिल होकर टीम से बाहर होने के बाद युवा खिलाड़ियों के भरोसे हासिल की। शुभमन गिल, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, रिषभ पंत, शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने मुश्किल वक्त में शानदार प्रदर्शन करके न केवल सबका ध्यान अपनी ओर खींचा बल्कि टीम की जीत में भी अहम भूमिका निभाई।

सीरीज में हार जीत का फैसला चौथे टेस्ट के पांचवें दिन के खेल के आखिरी पलों में हुआ। शुभमन गिल की 91 और रिषभ पंत की 89 रन की नाबाद धमाकेदार पारी की बदौलत भारत ने गाबा में खेले गए आखिरी टेस्ट के आखिरी दिन जीत के लिए मिले 328 रन के लक्ष्य का सफलता पूर्वक पीछा करते हुए 3 विकेट से मैच अपने नाम करते हुए सीरीज पर कब्जा कर लिया। 33 साल में पहली बार ऑस्ट्रेलिया को गाबा में हार का मुंह देखना पड़ा। 

मैच में सुंदर ने बल्ले से कराई टीम की वापसी
इस मैच में भले ही आखिरी पंच रिषभ पंत ने जड़ा लेकिन जीत की नींव डेब्यूटेंट वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने पहली पारी में शतकीय साझेदारी करके रखी थी। इस अहम मुकाबले में चोटिल रविचंद्रन अश्निन की जगह कुलदीप यादव के बजाए वॉशिंगटन सुंदर को टेस्ट डेब्यू का मौका दिया। इस मौके का सुंदर ने भरपूर फायदा उठाते हुए गेंद और बल्ले दोनों से योगदान करते हुए टीम की जीत की नींव रखी। शार्दुल ठाकुर के साथ सातवें विकेट के लिए 123 रन की साझेदारी करके सुंदर ने भारतीय टीम की मैच में वापसी कराई। 

कुलदीप को नहीं चुनना था मुश्किल निर्णय 
ऐसे में अब दो सप्ताह बाद टीम इंडिया के कार्यवाहक कप्तान रहे अजिंक्य रहाणे ने बताया है कि टीम मैनेजमेंट ने कुलदीप की जगह सुंदर को मौका क्यों दिया था। इस बारे में उन्होंने कहा, ये मुश्किल निर्णय था क्योंकि कुलदीप वहां बतौर स्पिन गेंदबाज मौजूद थे और टीम में जगह हासिल करने के दावेदार थे। लेकिन जब हमें परिस्थितियों के मद्देनजर जब एकादश चुननी थी तब हमें उस दिन के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ टीम चुननी थी।'

बल्लेबाजी के कारण सुंदर को मिला मौका
रहाणे ने आगे कहा, वॉशिंगटन सुंदर को चुने जाने की अहम वजह उनकी बल्लेबाजी थी। मैं पांच गेंदबाजों के साथ मैच में उतरने के बारे में सोच रहा था और वो हमें विकल्प भी मुहैया कराते हैं। हम जानते थे कि वो एक बेहतरीन बल्लेबाज हैं और उन्होंने वो साबित कर दिया।' अपने पहले मैच में वॉशिंगटन सुंदर ने कुल 4 विकेट लिए और 84 रन बनाए। पहली पारी में उन्होंने स्टीव स्मिथ जैसे दिग्गज खिलाड़ी को अपना पहला टेस्ट शिकार बनाया। पहली पारी में शार्दुल के साथ सातवें विकेट के लिए 123 रन जोड़ने के बाद दूसरी पारी में रिषभ पंत के साथ 53 रन की नाबाद साझेदारी की। 

जीत के बाद कुलदीप से कहा, तुम्हारा टाइम आएगा 
सीरीज जीत के बाद अजिंक्य रहाणे ने नेट्स पर अपने खिलाड़ियों को जमकर अभ्यास कराने वाले कुलदीप यादव और कार्तिक त्यागी की जमकर तारीफ की। कुलदीप के लिए रहाणे द्वारा दिया संदेश सोशल मीडिया पर बाद में वायरल हुआ जिसमें वो भावुक नजर आ रहे थे। रहाणे ने कुलदीप से कहा था कि तुम्हारा टाइम आएगा। कुलदीप को पूरे दौरे पर एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। 


 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर