चीनी कंपनी शाओमी ने की 653 करोड़ की आयात शुल्क चोरी, सरकार ने दिया नोटिस

Xiaomi Import Duty Evasion: चीन की फोन विनिर्माता कंपनी शाओमी की भारतीय इकाई को आयात शुल्क की है। कंपनी के परिसरों में तलाशी की गई और कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।

Xiaomi Import Duty Evasion
चीनी कंपनी शाओमी ने की 653 करोड़ की आयात शुल्क चोरी, सरकार ने दिया नोटिस  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • शाओमी की भारतीय इकाई को आयात शुल्क की कथित चोरी की है।
  • कंपनी ने 2017 और 2021 के बीच 653 करोड़ रुपये की कर चोरी की।
  • कंपनी को तीन कारण बताओ नोटिस जारी किए गए।

Xiaomi Import Duty Evasion: वित्त मंत्रालय के राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) ने खुलासा किया कि कम बजट वाली चीनी स्मार्टफोन निर्माता शाओमी (Xiaomi) ने साल 2017 और 2021 के बीच 653 करोड़ रुपये की कर चोरी की है। मंत्रालय ने कहा कि सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 के प्रावधानों के तहत 01.04.2017 से 30.06.2020 की अवधि के लिए 653 करोड़ रुपये की शुल्क की मांग और वसूली के लिए Xiaomi टेक्नोलॉजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को तीन कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।

राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) ने जांच के दौरान पाया था कि शाओमी इंडिया और उसके अनुबंध वाली विनिर्माता कंपनियां द्वारा आयात किए गए माल के निर्धारित मूल्य में रॉयल्टी की राशि शामिल नहीं थी, जो सीमा शुल्क कानून का उल्लंघन है। मंत्रालय ने कहा कि लेनदेन मूल्य में 'रॉयल्टी और लाइसेंस शुल्क' नहीं जोड़कर शाओमी इंडिया सीमा शुल्क से बच रहा था।

मंत्रालय के अनुसार, 'डीआरआई की जांच पूरी होने के बाद शाओमी टेक्नोलॉजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 के प्रावधानों के तहत एक अप्रैल, 2017 से 30 जून, 2020 की अवधि के लिए 653 करोड़ रुपये के शुल्क की मांग और वसूली को लेकर तीन कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।'

शाओमी ने क्या कहा?
इस संबंध में भेजे गए ईमेल का शाओमी ने जवाब देते हुए कहा, 'शाओमी इंडिया में हम यह सुनिश्चित करने को अत्यधिक महत्व देते हैं कि सभी भारतीय कानूनों का पालन किया जाए।' कंपनी ने कहा, 'फिलहाल हम नोटिस की विस्तार से समीक्षा कर रहे हैं। एक जिम्मेदार कंपनी के रूप में, हम सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ अधिकारियों का समर्थन करेंगे।'

(इनपुट एजेंसी- भाषा)

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर