Gold Price in 1947: आजादी वर्ष 1947 में क्या था सोने का भाव, अब तक 600 गुना से भी अधिक की हो गई है बढ़ोतरी

Gold Rate in 1947: जब 15 अगस्त 1947 में देश आजाद हुआ था तब 10 ग्राम सोने का भाव 100 रुपए से भी नीचे था। जानिए सोने के भाव का इतिहास।

What was gold rate in India independence year 1947? So far it has increased by more than 600 times
आजादी साल 1947 को सोने का भाव 100 रुपए से भी कम था 

मुख्य बातें

  • सोने की कीमतों में लगातार काफी बढ़ोतरी हो रही है
  • प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत 53000 रुपए से अधिक हो गई है
  • देश की आजादी के समय 1947 मे सोने का भाव 100 रुपए प्रति 10 ग्राम से भी कम था, नीचे जानिए सोने की कीमत का इतिहास

Gold Price in 1947: हाल के कुछ महीनों से सोने की कीमतों में लगातार काफी बढ़ोतरी हो रही है। अब प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत 53000 रुपए से अधिक हो गई है। एक्सपर्ट के मुताबिक इसकी कीमत दिवाली तक 60 हजार तक पहुंच सकता है। लेकिन क्या आपको पता 1947 में जब देश अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था उस समय सोने की कीमत कितनी थी? पिछले 73 वर्षों में कई हजार रुपए की बढ़ोतरी हो चुकी है। 15 अगस्त 1947 को सोने की कीमत 88.62 रुपए प्रति 10 ग्राम थी। आजादी के समय सोने की कीमत और वर्तमान में सोने की कीमत में तुलना करें तो अब उस समय से 52900 रुपए से अधिक हो गई है। इसमें काफी बढ़त हुई है। 600 गुना से भी अधिक की वृद्धि हुई है।

पूरी दुनिया में सोना सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है। जब भी दुनिया के बाजारों में उथल-पुथल होती है लोग सोने में निवेश करने के लिए दौड़ पड़ते हैं। पूरी दुनिया में केंद्रीय बैंक सोने के भंडार रखती है। यहां तक की करेंसी (रुपए) छापने के लिए भी सोने को ही आधार बनाया जाता है। वर्तमान में कोरोना वायरस की वजह से सभी सेक्टर में मंदी चल रही है। ऐसे में निवेशक सोना खरीदने में जुटे हुए हैं। इस इसकी कीमत सातवें आसमान पर है। 1964 के बाद सोने की कीमत 1947 के स्तर पर कभी नहीं पहुंची। सोने को फिर से 100 रुपए के लेवल छूने में 3 साल लग गए। हलांकि 1964 के बाद से इसमें लगातार बढ़त ही हुई।

  1. 1948 में सोने की कीमत बढ़कर 95.87 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई
  2. 1953 में सोने की कीमत 73.06 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई
  3. 1959 में सोने का भाव पहली बार 100 रुपए के पार गया, 102.56 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई
  4. 1964 में सोने की कीमत में बड़ी गिरावट आई। 63.25 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गई
  5. 1967 में सोने की कीमत 102.5 रुपए पर पहुंच गई 
  6. 1972 में सोने की कीमत पहली बार 200 के स्तर के पार गई, 202 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई
  7. 1974 में सोने की कीमत पहली बार 500 रुपए के स्तर पर पहुंच गई
  8. 1980 में सोने की कीमत पहली बार 1000 का लेवल पार कर गई, 1330 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गई
  9. 1985 में सोने की कीमत पहली बार 2000 रुपए का स्तर पर पहुंची
  10. 1996 में सोने की कीमत 5160 रुपए पर पहुंच गई 
  11. 2007 में सोने की कीमत 10,800 रुपए के लेवल पर पहुंच गई
  12. 2010 में सोने की कीमत 20000 के स्तर को पार कर गई  
  13. 2011 में सोने की कीमत 26,400 पर पहुंच गई
  14. 2018 में सोने की कीमत 30,000 से अधिक थी
  15. 2019 में सोने कीमत करीब 39,000 के करीब थी

कोरोना काल में सोना और चांदी के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कीमतें प्रतिदिन नई रिकॉर्ड उंचाइयों को छू रही हैं। गहने खरीदने वालों को समझ में नहीं आ रहा है कि क्या करें। खरीदकर रख लें या कीमत घटने का इंतजार करेंगे। उधर दुनिया भर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले की वजह से निवेश के लिए सबसे सुरक्षित माने जाने वाले धातु सोना, चांदी निवेशकों के लिए पहली पसंद बनी हुई है। 
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर