HRA कैलकुलेटर क्या है? टैक्स छूट के लिए कैसे कैलकुलेट करें

आप वेतनभोगी कर्मचारी हैं। और आप एचआरए का लाभ प्राप्त करते है। क्या आपको पता है यह पूरी तरह से टैक्स फ्री नहीं है। आप कैलकुलेट कर टैक्स फ्री बना सकते हैं।

What is HRA calculator? How to calculate tax exemption
एचआरए पर छूट कैसे प्राप्त करें (तस्वीर-Pixabay) 

हाउस रेंट अलाउंस (HRA) आपके वेतन का मुख्य पार्ट है। हालांकि, हम में से अधिकांश उन नियमों के बारे में नहीं जानते हैं कि हमें यह टैक्स बचाने में मदद कर सकता है। अगर आप किराए पर रहने वाले एक वेतनभोगी कर्मचारी हैं, तो यहां आप अपनी टैक्स लायबलिटी को कम करने के लिए एचआरए का उपयोग करने के बारे में जान सकते हैं।

HRA राशि पर टैक्स छूट कैलकुलेशन

आपके नियोक्ता से आपके द्वारा प्राप्त एचआरए की राशि पूरी तरह से टैक्स फ्री नहीं है। 
नियोक्ता से प्राप्त वास्तविक एचआरए
अगर मेट्रो शहरों (दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता) में रहते हैं तो सैलरी का 50 प्रतिशत या अन्य शहरों के लिए 40 प्रतिशत है।
वार्षिक 'वेतन' के 10 प्रतिशत से अधिक का अतिरिक्त किराए का भुगतान।

यहां 'सैलरी' का अर्थ है मूल वेतन, महंगाई भत्ता (डीए) (अगर यह रिटायरमेंट लाभ का हिस्सा बनता है) और टर्नओवर के प्रतिशत के आधार पर प्राप्त कमीशन। टैक्स फ्री एचआरए राशि की गणना के लिए आपके वेतन में कोई अन्य भत्ते जैसे स्पेशल भत्ते को नहीं जोड़े जाते हैं।

मान लें कि आप दिल्ली में रहते हैं और 12,000 रुपए का मासिक किराया देते हैं। आपका मूल वेतन 30,000 रुपए प्रति माह है और आपको 15,000 रुपए का मासिक एचआरए मिलता है। एचआरए पर टैक्स छूट कम होगी। 

  1. वास्तविक एचआरए- 15000x12 (1 लाख 80 हजार रुपए)
  2. सैलरी का 50 प्रतिशत- 30,000x12 (360000 रुपए x 50%) = 1 लाख 80 हजार रुपए
  3. वार्षिक सैलरी का 10 प्रतिशत से अधिक पेड- 12000x12- 30000x10%x12 = 1.08 लाख रुपए
  4. टैक्स छूट राशि- 1.08 लाख रुपए

ऊपर बताए गए सबसे कम राशि 1.08 लाख रुपए है जिसे टैक्स फ्री किया जाएगा। शेष राशि टैक्स योग्य होगी। इसलिए, आपकी आय स्लैब के अनुसार 72,000 रुपए (1.80 लाख रुपए0 1.08 लाख रुपए) पर टैक्स लगेगा।

HRA बेनिफिट्स का क्लैम कैसे करें?

टीडीएस को अपने वेतन से काटे जाने से बचने के लिए, आपको अपने नियोक्ता को रेंट एग्रीमेंट या किराया रसीद देनी होगी। अगर आपका वार्षिक किराया भुगतान 1 लाख रुपए से अधिक है, तो आप अपने मकान मालिक का पैन नंबर अपने नियोक्ता को देने होंगे। हालांकि, यहां तक कि अगर आप अपने नियोक्ता को किराए की रसीदें या रेंट एग्रीमेंट जमा करना भूल गए हैं, तो आप आयकर रिटर्न दाखिल करने के समय लाभ का दावा कर सकते हैं। किराए के भुगतान और किराए की रसीदों के प्रमाण रखना उचित है क्योंकि टैक्स विभाग आपको अपने दावे को प्रमाणित करने के लिए इसे प्रदान करने के लिए कह सकता है।

HRA लाभ का दावा करने के विशेष मामले

अपने माता-पिता को दिया गया किराया। अगर आप अपने माता-पिता के साथ रह रहे हैं और उन्हें किराया दे रहे हैं, तो आप एचआरए पर टैक्स-छूट का दावा करने के योग्य होंगे। एक्सपर्ट्स का सुझाव है कि टैक्स विभाग द्वारा दावे की अस्वीकृति से बचने के लिए किराए पर रसीदें, वित्तीय लेनदेन, रेंट एग्रीमेंट जैसे दस्तावेजी साक्ष्य होना उचित है। ऐसे उदाहरण हैं जहां इनकम टैक्स विभाग ने दावों को खारिज कर दिया है क्योंकि लेन-देन का कोई वास्तविक प्रमाण नहीं था।

खुद का घर है लेकिन दूसरे शहर में रह रहे हैं

यहां तक कि अगर आप एक घर के मालिक हैं, लेकिन अपनी नौकरी की वजह से एक अलग शहर में रह रहे हैं और किराए पर रह रहे हैं, तो भी आप एचआरए लाभ का दावा कर सकते हैं।

कब आप एचआरए छूट का दावा नहीं कर सकते

अगर आप HRA प्राप्त कर रहे हैं, लेकिन हमारे अपने अपार्टमेंट में रह रहे हैं, तो आप HRA छूट लाभ का दावा नहीं कर सकते। प्राप्त संपूर्ण एचआरए राशि टैक्स योग्य होगी।


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर