चीन के खिलाफ उठाई आवाज तो ट्विटर ने बैन किया अमूल का अकाउंट, फिर पीछे यूं खीचने पड़े कदम

Amul twitter account Ban: भारतीय कंपनी अमूल के चीन के खिलाफ एक क्रिएटिव विज्ञापन दिखाने पर ट्विटर पर उसके आधिकारिक ट्विटर अकाउंट को बैन कर दिया गया।

Amul company's Twitter account ban for creative advertisement
कलात्मक विज्ञापन पर अमूल कंपनी का ट्विटर अकाउंट बैन 

मुख्य बातें

  • दादागिरी पर उतरे चीन के खिलाफ कलात्मक विज्ञापन शेयर करने ट्विटर ने बैन किया अकाउंट
  • कुछ देर बाद वापस पुनर्स्थापित किया गया
  • लोगों ने ट्विटर को जमकर किया ट्रोल, आलोचना के बाद पीछे खींचे कदम

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच इन दिनों तनाव का महौल चल रहा है और इस बीच इसे सुलझाने को लेकर सैन्य स्तर पर 06 जून को बातचीत का आयोजन किया गया है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी स्वदेशी के समर्थन में आवाज उठाने कुछ दिन पहले पहल की थी। इन्हीं दोनों विषयों को लेकर भारत में दूध के व्यापार से जुड़ी कंपनी अमूल ने एक कलात्मक विज्ञापन बनाया और इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया।

इस बात को लेकर ट्विटर पर कंपनी का अकाउंट बंद किए जाने की खबर सामने आई है। हालांकि कुछ समय बाद अकाउंट को पुनर्स्थापित कर दिया गया। क्रिएटिव में अमूल ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने वाली चीनी सेना को लेकर 'एग्जिट द ड्रैगन' लिखा था और चीनी उत्पादों के बहिष्कार के बारे में कैप्शन दिया था। कंपनी को ऐसे वैश्विक और स्थानीय विषयों पर अपने रचनात्मक विज्ञापनों के लिए जाना जाता है।

Amul Twitter account

भड़क गए लोग, पूछे सवाल: इस विज्ञापन के बाद अमूल कंपनी को वार्निंग देते हुए उसके आधिकारिक अकाउंट को ट्विटर पर बंद कर दिया गया। इतना होना ही था की भारतीय सोशल मीडिया यूजर्स ट्विटर पर भड़क गए और ट्विटर के बहिष्कार को लेकर कमेंट किए जाने लगे। कई लोगों ने यह भी लिखा कि सभी भारतीयों को ट्विटर छोड़ देना चाहिए।

एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, 'इसमें कुछ भी संदिग्ध नहीं है @Amul_Coop! आप संदिग्ध अकाउंट चेतावनी क्यों दिखा रहे है @TwitterIndia ? अगर कारण ट्वीट है, तो हम भारतीय हमेशा #Amul के साथ खड़े हैं। हमारे देसी सुपर ब्रांड्स पर अपने पूर्वाग्रह को रोकें! हमें कानूनी कदम उठाने के लिए मजबूर न करें।'

दोबारा शुरु किया गया अकाउंट: GCMMF के मैनेजिंग डायरेक्टर आर एस सोढ़ी ने कहा, 'हमने ट्विटर से पूछा है कि आखिर इस तरह ब्लॉक करने से पहले हमें जानकारी क्यों नहीं दी गई। उन्हें हमें सूचित करना चाहिए था।' कुछ समय तक अकाउंट ब्लॉक रहने और इस दौरान ट्विटर की आलोचना के बाद, इसे वापस शुरु कर दिया गया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर