Times Now Summit 2021 में पीयूष गोयल ने कहा- किसानों की जितनी चिंता मोदी सरकार ने की, 70 सालों में किसी ने नहीं की

टाइम्स नाउ समिट 2021 में केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने अर्थव्यवस्था, कोरोना वैक्सीन और किसान आंदोलन पर बेबाकी से अपने विचार रखे।

Times Now Summit 2021: Piyush Goyal said– No one has cared for farmers in 70 years as much as Modi government
टाइम्स नाउ समिट 2021 में पीयूष गोयल 
मुख्य बातें
  • पीयूष गोयल ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत की धाक पूरी दुनिया में बढ़ी है।
  • उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था में काफी सुधार हुआ है।
  • MSP की जो व्यवस्था चल रही है, उसमें बदलाव नहीं किया जाएगा।

नई दिल्ली : केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार (11 नवंबर) को टाइम्स नाउ समिट 2021 में देश की अर्थव्यवस्था, किसान आंदोलन समेत कई मुद्दों पर बात की। उन्होंने टाइम्स नेटवर्क की ग्रुप एडिटर एवं टाइम्स नाउ नवभारत की एडिटर इन चीफ नाविका कुमार के साथ खास बातचीत में कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत की धाक पूरी दुनिया में बढ़ी है। अगर आप 2014 से पहले और आज की तस्वीर को देखें तो वैश्विक स्तर पर भारत की साख बढ़ी है। उन्होंने कहा कि जब ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने कहा कि वन अर्थ, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड और वन नरेंद्र तो आप समझ सकते हैं दुनिया के ताकतवर देशों में भारत की धाक कितनी बढ़ी है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यस्था में काफी सुधार हुआ है। 

तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन के सवाल पर पीयूष गोयल ने कहा कि 70 सालों में किसानों की चिंता जितनी नरेंद्र मोदी सरकार ने की है उतनी किसी सरकार ने नहीं की है। 2014 के बाद प्रधानमंत्री के एक के बाद एक फैसले देख लीजिए। टाइम्स ऑफ इंडिया में एम एस स्वामीनाथन जी का लेख है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए मोदी सरकार   ने जितना काम ने किया है, उतना किसी ने नहीं किया है। एमएसपी को लागत से डेढ़ गुना दाम देने की बात पीएम मोदी ने  की थी। एमएसपी में ऐतिहासिक बढ़ोतरी हुई है। एमएसपी की जो व्यवस्था चल रही है। उसमें बदलाव नहीं किया जाएगा। कानून में एमएसपी का जिक्र भी नहीं है। एमएसपी को रोकने की न मनसा है न कानून में प्रावधान है। भ्रम फैलाने में कुछ लोग सफल हुए। गलतफहमियों के कारण कुछ लोग विरोध कर रहे हैं। हम तथ्यों के आधार पर किसानों से बातचीत करने को तैयार हैं। इसका हल निकालने के लिए जो मदद करना चाहते हैं सबका स्वागत है।

कोरोना महामारी पर उन्होंने कहा कि भारत में 30 लाख कोरोना टेस्ट प्रतिदिन हुए। हमने रैपिड टेस्टिंग किट का निर्माण किया। उन्होंने कहा कि हमारा वैक्सीन 2 से 10 डिग्री तापमान पर रखा जाता है। दूसरे देशों की वैक्सीन को -70 और -80 डिग्री तापमान पर रखना होता है। दूसरे देशों की वैक्सीन से हमारी वैक्सीन ज्यादा सक्षम है। उन्होंने कहा कि पीपीई किट की कमी वाले देश से हम बनें दुनिया के दूसरे सबसे अधिक पीपीई किट बनाने वाले देश बन गए है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर