जीएसटी की बढ़ी हुई दर का कपड़ा व्यापारी कर रहे विरोध, कहा- वापिस 5% नहीं की तो करेंगे प्रदर्शन

बिजनेस
अमित गौतम
Updated Dec 21, 2021 | 10:25 IST

सरकार ने नवंबर में कपड़े पर लगने वाले जीएसटी को 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी किया था, जिसके बाद से देश भर के कपड़ा व्यापारी विरोध जता रहे हैं।

Textile traders protest against Goods and Services Tax GST hike
जीएसटी की बढ़ी हुई दर का कपड़ा व्यापारी कर रहे विरोध 
मुख्य बातें
  • केंद्र सरकार ने नवंबर में कपड़े पर लगने वाला GST बढ़ाया था।
  • इसे 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी किया गया था।
  • व्यापारी संगठन कैट के डेलिगेशन ने पूरे मुद्दे पर कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात भी की थी।

GST News: केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में नवंबर के महीने में नोटिफिकेशन निकालकर कपड़े पर लगने वाले जीएसटी को 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी कर दिया गया है, जिसके बाद से ही कपड़ा व्यापारियों में ना सिर्फ रोष का माहौल है बल्कि केंद्र सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले से पूरे देश भर के कपड़ा व्यापारी बड़ी संख्या में नाराजगी है।

विरोध जता रहे हैं कपड़ा व्यापारी
पिछले कुछ दिनों से लगातार पूरे देश भर में कपड़ा व्यापारी केंद्र सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले को लेकर अपनी-अपनी तरह से विरोध भी जताए जा रहे हैं। इस बीच देश के सबसे बड़े व्यापारी संगठनों में से एक कैट (CAIT) के डेलिगेशन द्वारा इसी पूरे मुद्दे पर कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात की थी।

सड़कों पर उतरने से भी नहीं डरेंगे व्यापारी
वहीं दिल्ली के सबसे पुराने कपड़ा व्यापारियों की एसोसिएशन दिल्ली हिंदुस्तान मरचेंट एसोसिएशन के द्वारा व्यपारियों ने  नाराजगी जताते हुए कहा गया कि यदि केंद्र सरकार के द्वारा इस पूरे मामले का संज्ञान लेकर व्यापारियों को राहत देते हुए कपड़े पर लगने वाले जीएसटी को दोबारा 5 फीसदी नहीं किया गया तो कपड़ा व्यापारी सड़कों पर उतरने से भी नहीं डरेंगे।

बाजार में पड़ेगा बुरा असर
गौरतलब है कि दिल्ली हिंदुस्तान मर्केंटाइल एसोसिएशन से लगभग 30 हजार कपड़ा व्यापारी जुड़े हुए हैं। कपड़ा व्यापारी खुलकर केंद्र सरकार के इस फैसले का विरोध करते हैं। इस तरह के फैसलों से ना सिर्फ कपड़ा व्यापारियों के ऊपर बुरा असर पड़ेगा बल्कि व्यापारियों की पूरी कैपिटल इनकम समाप्त हो जाएगी और बाजार में इसका बुरा असर पड़ेगा। बाजार में कपड़ा खरीदने आए व्यक्ति को अपनी जेब पहले के मुकाबले ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी जिससे महंगाई भी बढ़ेगी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर