Share market 20 August: सेंसेक्स,निफ्टी में बढ़त पर लगा ब्रेक, बड़ी गिरावट, देखें VIDEO

Share market 20 August 2020 : लगातार तीसरे दिन बढ़ोतरी के बाद शेयर बाजार में गिरावट हुई। सेंसेक्स और निफ्टी लुढ़क गया।

Sensex, Nifty Today closed after fall on 20 August 2020 Share market news in hindi, watch Video
शेयर बाजार में गिरावट 

Share market 20 August 2020 : अंतरराष्ट्रीय बाजारों में बड़े पैमाने पर बिकवाली के बीच घरेलू बाजार में भी बीएसई सेंसेक्स गुरुवार (20 अगस्त) को 394 अंक लुढ़क गया। एनएसई निफ्टी भी 11,350 के स्तर से नीचे बंद हुआ। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के आर्थिक परिदृश्य को लेकर निराशाजनक रिपोर्ट से दुनिया भर में निवेशक धारणा पर असर पड़ा है। कारोबारियों के अनुसार रुपए की विनिमय दर में तीव्र गिरावट और हाल की तेजी के बाद मुनाफावसूली से भी घरेलू शेयर बाजारों पर असर पड़ा। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स गिरावट के साथ खुला और पूरे कारोबार के दौरान नकारात्मक दायरे में रहा। अंत में 394.40 अंक यानी 1.02% का गोता लगाकर 38,220.39 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 96.20 अंक यानी 0.84% टूटकर 11,312.20 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में सर्वाधिक नुकसान एचडीएफसी को हुआ। कंपनी का शेयर 2.35% नीचे आया। इसके अलावा एक्सिस बैंक, भारती एयरटेल, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाइटन, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईसीआईसीआई बैंक और इंडसइंड बैंक के शेयर भी टूटे। दूसरी तरफ सेंसेक्स के मात्र पांच शेयरों  एनटीपीसी, ओएनजीसी, पावर ग्रिड और टाटा स्टील में 6.87% तक की तेजी आयी।

अंतरराष्ट्रीय बाजारों पर अमेरिकी फेडरल रिजर्व की जुलाई बैठक के ब्योरे का असर पड़ा। इसमें कोविड-19 महामारी के अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर प्रभाव को रेखांकित किया गया है। फेडरल ओपेन मार्कट कमेटी का कहना है कि महामारी से प्रभावित आर्थिक परिदृश्य के साथ वित्तीय प्रणाली को उल्लेखनीय जोखिम है।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि फेडरल रिजर्व ने श्रम बाजारों में पिछले महीने जो सुधार देखा था, उसमें तेजी बने रहने को संदेह जताया है। वैश्विक स्तर पर बाजार इस उम्मीद पर निर्भर है कि बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में पुनरूद्धार होगा तथा व्यापार सामान्य स्थिति में आएगा। हालांकि ब्योरे में कुछ भी नया नहीं है। बाजार ने उसी के अनुरूप गिरावट के रूप में प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि बैंक सूचकांक की अगुवाई में ज्यादातर खंडवार सूचकांक नुकसान में हैं। निवेशकों को सतर्क रहने की सलाह है। आज की तरह एक ओर गिरावट बाजार में नकारात्मकता ला सकती है।

एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई, हांगकांग, जापान का तोक्यो और दक्षिण कोरिया के सोल में भारी गिरावट आयी। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरूआती कारोबार में बिकवाली दबाव देखने को मिला। अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड का भाव 1.06% की गिरावट के साथ 44.89 डॉलर प्रति बैरल रहा। इधर, विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 20 पैसे टूटकर 75.02 पर बंद हुआ।


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर