Rupee vs Dollar: ऑल टाइम लो पर पहुंचा रुपया, आम लोगों पर क्या होगा असर?

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jun 29, 2022 | 18:19 IST

Rupee vs Dollar: शेयर बाजार के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 1,244.44 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

Rupee falls and close at all time low against US dollar
नए सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंचा रुपया (Pic: iStock) 

नई दिल्ली। कच्चे तेल की कीमत (Crude Oil Price) में उछाल की वजह से बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया (Rupee vs Dollar) ऑल टाइम लो पर बंद हुआ। कच्चे तेल तेल के अलावा डॉलर की मजबूती और विदेशी पूंजी की निकासी की वजह से भी रुपया कमजोर हुआ। दिनभर के उतार- चढ़ाव के बाद यह 18 पैसे टूटकर 79.03 प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ।

मालूम हो कि अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में आज डॉलर की तुलना में रुपया 78.86 पर खुला था और कारोबार के दौरान अमेरिकी मुद्रा की तुलना में रुपये ने 79.05 का सर्वकालिक निचला स्तर छुआ था। उल्लेखनीय है कि पिछले कारोबारी सत्र यानी मंगलवार को रुपया 48 पैसे गिरकर 78.85 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था।

कच्चे तेल के डीरेगुलेशन को कैबिनेट ने दी मंजूरी, जानें इससे क्या होगा फायदा

डॉलर सूचकांक में तेजी
आज डॉलर सूचकांक 0.13 फीसदी की तेजी के साथ 104.64 पर आ गया। डॉलर सूचकांक छह प्रमुख मुद्राओं की तुलना में अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाता है। ग्लोबल स्तर पर ब्रेंट क्रूड वायदा 0.34 फीसदी महंगा होकर 118.38 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

रुपया गिरने से आप पर क्या पड़ेगा असर?
रुपये की गिरावट का सीधा नाता महंगाई (Inflation) से है। इसका कनेक्शन ना सिर्फ कच्चे तेल की कीमत, बल्कि आयात होने वाली सभी वस्तुओं से है। भारतीय रुपये के कमजोर होने से महंगाई बढ़ेगी क्योंकि डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होने का अर्थ है कि आयात महंगा हो जाएगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर