Railway Helpline Number: रेलवे ने बंद किए कई सारे हेल्पलाइन नंबर, अब सिर्फ इस नंबर का करें इस्तेमाल

Railway Helpline Number 139: रेलवे ने शिकायत और सहायता के लिए सिर्फ एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। साथ ही रेलवे के कई सारे हेल्पलाइन नंबर को बंद कर दिया है।

Railway Helpline Number
Railway Helpline Number: रेलवे ने एकीकृत हेल्‍पलाइन नंबर जारी किया  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • भारतीय रेलवे ने शिकायत और मदद से लिए जारी विभिन्न नंबर को बंद कर दिया है।
  • यात्री अब यात्रा के दौरान किसी प्रकार की शिकायत या सहायता के लिए 139 नंबर डायल कर सकते हैं।
  • आरपीएफ टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 182 अभी भी जारी रहेगा।

नई दिल्ली: रेलवे ने सफर के दौरान यात्रियों को होने वाली असुविधा को दूर करने के लिए नया हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया है। इसके साथ ही रेलवे ने पुराने हेल्पलाइन नंबर बंद कर दिए हैं। रेलवे इन दिनों कई बड़े बदलाव कर रही है और अपनी सेवाओं को यात्रियों के लिए बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रही है। रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर 182 को छोड़कर अन्य सभी नंबर बंद कर दिए हैं। बता दें कि 182 टोल फ्री आरपीएफ हेल्पलाइन नंबर है।

भारतीय रेलवे ने सभी हेल्पलाइन नंबर को एकीकृत कर सिर्फ एक हेल्पलाइन नंबर 139 में तब्दील कर दिया है। रेलवे के ये कदम यात्रियों को यात्रा के दौरान होने वाली असुविधा को ध्यान में रखते हुए उठाया है। खास बात ये है कि यात्रियों को अब अलग अलग शिकायतों के लिए अलग अलग नंबर याद रखने की आवश्यकता नहीं होगी। 

रेल शिकायत निवारण हेल्पलाइन के इन नंबर को रेलवे ने किया है बंद

  • 138 (सामान्‍य शिकायतों के लिए)
  • 1072 (हादसों एवं सुरक्षा के लिए)
  • 9717630982 (एसएमएस संबंधी शिकायतों के लिए)
  • 58888 / 138 (अपने कोच को स्‍वच्‍छ रखने के लिए)
  • 152210 (सतर्कता के लिए)
  • 1800111321 (केटरिंग सेवाओं के लिए)

उपरोक्त दिए गए सभी नंबर को बंद कर रेलवे ने सिर्फ एक नंबर 139 जारी किया है। ये हेल्पलाइन नंबर 12 भाषाओं में उपलब्ध है। यह आईवीआरएस यानी इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पॉन्स सिस्टम पर आधारित सेवा है, इसलिए कॉल करने के लिए स्मार्टफोन आवश्यक नहीं होगा। किसी भी फोन के जरिए इस नंबर पर कॉल की जा सकती है। 

139 हेल्पलाइन नंबर पर सहायता और शिकायत करने की ये है प्रक्रिया

  1. सुरक्षा या किसी मेडिकल हेल्प के लिए यात्रियों को 139 डायल करने के बाद 1 दबाना होगा। इससे उनका संपर्क तुरंत कॉल सेंटर में मौजूद कर्मचारी से हो जाएगा। 
  2. पूछताछ के लिए यात्री को हेल्पलाइन नंबर डायल करने के बाद 2 दबाना होगा। इसके तहत यात्रियों को पीएनआर स्‍टैटस, ट्रेन के आगमन/प्रस्‍थान, एकोमोडेशन, किराया संबंधी पूछताछ, टिकट बुकिंग, प्रणाली के तहत टिकट निरस्‍त करने, वेकअप अलार्म सुविधा/प्रस्‍थान संबंधी अलर्ट, व्‍हील चेयर की बुकिंग और भोजन की बुकिंग जानकारियां मिलेंगी। 
  3. केटरिंग संबंधी शिकायतों के लिए आपको 3 नंबर दबाना होगा। 
  4. सामान्य शिकायत के लिए यात्रियों को हेल्पलाइन नंबर डायल करके 4 नंबर दबाना होगा। 
  5. किसी सतर्कता संबंधी शिकायत के लिए 5 नंबर दबाना होगा। 
  6. हादसे से दौरान पूछताछ के लिए 6 नंबर दबाना होगा। 
  7. किसी शिकायत का स्टेटस जानने के लिए यात्री को 9 नंबर दबाना होगा। 
  8. कॉल सेंटर में मौजूद कर्मचारी से सीधे बात करने के लिए * दबाना होगा। 
Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर