PNB घोटाला: नीरव मोदी की बहन ने ब्रिटेन के बैंक अकाउंट से भारत सरकार को भेजे 17.25 करोड़ रुपए

बिजनेस
भाषा
Updated Jul 01, 2021 | 22:54 IST

पीएनबी से हजारों करोड़ रुपए लेकर फरार भगोड़ा हीरा व्यापारी नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने ब्रिटेन के बैंक अकाउंट से 17 करोड़ रुपए भारत सरकार के खाते में भेजे।

PNB scam: Nirav Modi's sister sent Rs 17.25 crore from UK bank account to Indian government
पीएनबी घोटाला का मुख्य आरोपी 

मुख्य बातें

  • नीरव मोदी की बहन ने ब्रिटेन के बैंक खाते से 23,16,889.03 डॉलर भारत सरकार के बैंक खाते में भेजे।
  • पीएनबी से 13,000 करोड़ रुपए के कर्ज धोखाधड़ी मामले की आरोपी हैं।
  • इस मामले में मुख्य आरोपी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी हैं।

नई दिल्ली : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को कहा कि भगोड़ा कारोबारी नीरव मोदी की बहन ने ब्रिटेन के बैंक खाते से 17 करोड़ रुपए से अधिक राशि भारत सरकार को भेजी है। उल्लेखनीय है कि पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से 13,000 करोड़ रुपए के कर्ज धोखाधड़ी मामले में अभियोजन पक्ष का सहयोग करने के एवज में नीरव की बहन को आपराधिक कार्यवाही से छूट दी गई थी।

पूर्वी मोदी उर्फ पूर्वी मेहता (47) और उनके पति मयंक मेहता को पूरा और सही खुलासा करने तथा जांच में एजेंसी को सहयोग करने की शर्तों पर जनवरी में मुंबई की विशेष पीएमएलए (धन शोधन रोकथाम अधिनियम) अदालत ने माफी की अनुमति दे दी थी। पूर्वी और उनके पति ब्रिटिश नागरिक हैं और वे कभी जांच से नहीं जुड़े।

ईडी ने एक बयान में कहा कि 24 जून को, पूर्वी मोदी ने प्रवर्तन निदेशालय को सूचित किया कि उन्हें लंदन, ब्रिटेन में उनके नाम पर एक बैंक खाते का पता चला, जो उनके भाई नीरव मोदी के कहने पर खोला गया था और यह धन उनका नहीं था। बयान में कहा गया कि चूंकि पूर्वी मोदी को पूरा और सही खुलासा करने की शर्तों पर माफी की अनुमति दी गई थी, इसलिए उन्होंने ब्रिटेन के बैंक खाते से 23,16,889.03 डॉलर भारत सरकार, प्रवर्तन निदेशालय के बैंक खाते में भेज दिए। बयान के मुताबिक पूर्वी मोदी के इस सहयोग से प्रवर्तन निदेशालय करीब 17.25 करोड़ रुपए (23,16,889.03 डॉलर) वापस हासिल कर सका है।

एजेंसी के मुताबिक पूर्वी मोदी ने ईडी को आश्वस्त किया था कि वह 579 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त करने में एजेंसी की मदद करेगी, जिसमें न्यूयॉर्क और लंदन में फ्लैट और स्विस बैंक में जमा रकम भी शामिल हैं। ईडी ने पूर्वी के खिलाफ 2018 में इंटरपोल गिरफ्तारी वारंट जारी किया था और धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के आपराधिक प्रावधानों के तहत दो आरोपपत्र दाखिल किए थे। इनमें पूर्वी और उनके पति को बैंक कर्ज घोखाधड़ी मामले में आरोपी बनाया गया था। माफी के लिए अदालत में अपनी याचिका में पूर्वी मोदी ने कहा था कि वह मुख्य आरोपी नहीं हैं और जांच एजेंसी ने केवल उनकी सीमित भूमिका की बात कही है। पूर्वी ने कहा था कि वह सभी जरूरी सूचनाएं और दस्तावेज मुहैया कराकर इस जांच में ईडी के साथ पूरा सहयोग कर रही हैं।

पंजाब नेशनल बैंक से दो अरब डॉलर से ज्यादा (13,000 करोड़ रुपए) की धोखाधड़ी के मामले में मुख्य आरोपी के तौर पर नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी के साथ कुछ अन्य आरोपियों के खिलाफ जांच की जा रही है। नीरव मोदी (50) वर्तमान में ब्रिटेन की जेल में है और भारत प्रत्यर्पण की उसकी याचिका खारिज हो चुकी है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर