PM मोदी करेंगे पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान पोर्टल की शुरुआत, जानें क्या होगा इसका उपयोग

बिजनेस
अमित कुमार
अमित कुमार | DEPUTY NEWS EDITOR
Updated Oct 11, 2021 | 19:32 IST

PM Gatishakti National Master Plan: इंफ्रास्ट्रक्चर में तेजी लाने के लिए और इसके लिए मंत्रालयों में बेहतर तालमेल हो, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 तारीख को 'पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान' पोर्टल की शुरूआत करेंगे।

Narendra Modi
नरेंद्र मोदी 

इंफ्रॉस्ट्रक्चर में तेजी लाने के लिए और इसके लिए मंत्रालयों में बेहतर तालमेल हो, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 तारीख को 'पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान' पोर्टल की शुरूआत करेंगे। इस पोर्टल के जरिए 16 मंत्रालय जुड़ेंगे जैसे- रेलवे, रोड ट्रांसपोर्ट, एविएशन, शिपिंग एंड पोर्ट, पेट्रोलियम, आईटी और टेलीकॉम, फार्मास्यूटिकल्स, टेक्सटाइल, स्टील आदि। पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान से जुड़े ये सभी मंत्रालय सीधे इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े हुए हैं और इन 16 मंत्रालयों के कोआर्डिनेशन के लिए नोडल मंत्रालय कॉमर्स मंत्रालय होगा।

इस पोर्टल में पूरे देश की जीआईएस मैपिंग उपलब्ध होगा यानी प्लॉट के हिसाब से जमीन की सैटेलाइट इमेज, जिसमें साफ तौर पर दिखेगा कि कहां खाली और कहां बंजर जमीन है, कहां फॉरेस्ट एरिया या ग्रीन फील्ड है। इस जानकारी के आधार पर नए इंफ्रॉस्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की प्लानिंग की जा सकेगी। इस पोर्टल के जरिए प्रोजेक्ट से जुड़े मंत्रालय के बीच बेहतर तालमेल हो सकेगा ताकि उस प्रोजेक्ट को पूरा करने में तेजी आएगी और बेवजह के खर्च से भी बचा जा सकेगा।

इस पोर्टल के जरिए मंत्रालय में तालमेल और आपसे विवाद को दूर करने के लिए टेक्निकल अधिकारियों का नेटवर्क प्लानिंग ग्रुप बनाया जाएगा। विवाद इस ग्रुप में भी नहीं सुलझा तो सभी 16 मंत्रालयों के सचिवों का एम्पावर्ड ग्रुप बनाया जाएगा जो इन्फ्रॉस्ट्रक्चर प्रोजेक्ट पर फैसले ले सकेगा। मोदी सरकार की कोशिश है कि राज्यों को भी पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान पोर्टल से जोड़ा जाए क्योंकि असली तालमेल केंद्रीय मंत्रालय और राज्यो के मंत्रालयों के बीच का होना है। कॉमर्स मिनिस्ट्री ने सभी राज्यों से अपील की है कि बेहतर इंफ्रॉस्ट्रक्चर के लिए बेहतर तालमेल जरूरी है और इसके लिए राज्य सरकारों के मंत्रालयों को भी इससे जुड़ना होगा। 

फिलहाल इस पोर्टल का लॉगिन और पासवर्ड केंद्र की 16 मंत्रालयों के पास होगा, जो इससे जुड़ेंगे। पीएम मोदी बार-बार कहते रहे है कि मंत्रालयों के बीच में बेहतर तालमेल के लिए जरूरी है कि केंद्रीय मंत्री चाय पर मिला करें और आपसी विवादों को सुलझा लें।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर