PM Garib Kalyan package : अब तक 42 करोड़ लोगों को दिए गए 68820 करोड़ रुपए, आपको मिला क्या?

Pradhan Mantri Garib Kalyan Package : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP) के तहत अब तक 42 करोड़ गरीबों को 68,820 करोड़ रुपए की कैश सहायता दी है। 

PM Garib Kalyan package : so far provided cash assistance of Rs 68,820 crore to 420 million poor 
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज  |  तस्वीर साभार: BCCL

Pradhan Mantri Garib Kalyan Package : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP) के तहत केंद्र सरकार ने अब तक 42 करोड़ गरीबों को 68,820 करोड़ रुपए की नकद सहायता प्रदान की है। वित्त मंत्रालय ने यह बात मंगलवार को बताई। यह पैकेज भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का करीब 0.8% है। इसका उद्देश्य विशेष रूप से वंचितों के लिए आर्थिक संकट को कम करना है। यह पैकेज गरीबों को भोजन और नकदी सुरक्षा का वादा करता है। डायरेक्टर वित्तीय सहायता के अलावा PMGKP में गेहूं, चावल, दाल और रसोई गैस सिलेंडर का मुफ्त वितरण भी शामिल है।

बयान में कहा गया है कि सरकार ने 89.4 मिलियन लाभार्थियों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किस्त के रूप में 17,891 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। देश भर के सभी किसान परिवारों को तीन समान किस्तों में 6,000 रुपए प्रति वर्ष की नकद सहायता प्रदान करने के लिए 1 दिसंबर, 2018 को पीएम-किसान योजना शुरू की गई थी।

बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) के तहत 10,325 करोड़ रुपए पहले ही 206.5 मिलियन महिला खाताधारकों को दिए जा चुके हैं। 10,315 करोड़ रुपए और 10,312 करोड़ रुपए क्रमशः दूसरी और तीसरी किस्तों में PMJDY खातों में जमा किए गए। इस कठिन समय में गरीब महिलाओं की मदद करने के लिए जब उनमें से अधिकांश की आजीविका बाधित होती है, सीतारमण ने अप्रैल से शुरू होने वाले तीन महीनों के लिए 500 रुपए प्रति माह के पूर्व भुगतान की घोषणा की थी। बयान में कहा गया कि कुल 2,814.5 करोड़ रुपए  2.81 करोड़ वृद्धों, विधवाओं और विकलांगों को दो किस्तों में वितरित किए गए बयान में कहा गया है।

26 मार्च को, सीतारमण ने 30 मिलियन गरीब वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं और दिव्यांगों (विकलांगों) को 1,000 रुपए की अनुग्रह राशि देने का वादा किया था जो कोविद -19 की वजह से असुरक्षित थे। बयान में कहा गया कि करीब 18.2 मिलियन निर्माण श्रमिकों को 4,987.18 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता मिली है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर