नया साल 2021 की हो गई शुरुआत, 9 बड़े बदलाव आपकी जिंदगी को करेंगे प्रभावित

नया साल 2021 शुरू हो गया है। आज (1 जनवरी) से आपकी और हमारी जीवन से जुड़े कई चीजें बदल गई है। 09 बड़े बदलाव जो जानना बेहद जरूरी है। 

New year 2021, these 9 major changes will affect your life from today 1 January 
नए साल में 9 बड़े बदलाव  |  तस्वीर साभार: BCCL

नया साल 2021 आज (1 जनवरी) से शुरू हो गया है। आज से हमारे जीवन में कई चीजें बदल गई हैं। क्योंकि आपसे और हमसे जुड़े कई नियमों में बदलाव किए गए हैं चेक पेमेंट से जुड़े नियम,  यूपीआई पेमेंट चार्ज, फोन डायल करने से पहले  जीरो लगाना, कारों के दाम में इजाफा, WhatsApp,GST रिटर्न के नियम में बदलाव,  सरल जीवन बीमा पॉलिसी, म्यूचुअल फंड निवेश नियम में बदलाव, बिजली कनेक्शन से जुड़े नए नियम आपके जीवन पर प्रभाव डालेगा। इसलिए आपके लिए इन सभी के बारे में जानना जरूरी है। जानिए 9 बड़े बदलाव जो हमारे और आपके जीवन पर गहरा असर डाल सकते हैं। 

बदल गए चेक पेमेंट से जुड़े नियम

एक जनवरी से 2021 से पॉजिटिव पे सिस्टम लागू हो गया है। इसके तहत  50,000 रुपए से अधिक भुगतान वाले चेक के बारे में इलेक्ट्रॉनिक तरीके चेक की तारीख, किसको भेजा जा रहा है उसका नाम, भेजने वाले का नाम और पेमेंट की राशि के बारे में दोबारा जानकारी देनी होगी। पॉजिटिव पे सिस्टम एक ऑटोमैटिक व्यवस्था है जिसके जरिये चेक से होने वाली धोखाधड़ी पर रोक लगाया जाएगा। चेक जारी करने वाला व्यक्ति को एसएमएस या अन्य माध्यमों सभी जानकारी देनी होगी। इसके बाद चेक के बारे में दी गई जानकारियों की जांच की जाएगी। अगर किसी भी तरह की गड़बड़ी पाई जाती है तो पेमेंट रोक दी जाएगी। 

यूपीआई पेमेंट पर एक्सट्रा चार्ज

 गूगल पे अमेजन पे और फोन पे से ट्रांजेक्शन करने पर आज (एक जनवरी) से एक्स्ट्रा चार्ज देना पड़ सकता है। क्योंकि एनपीसीआई ने थर्ड पार्टी ऐप सुविधा देने वाले की ओर से चलने वाली यूपीआई भुगतान सेवा एक्स्ट्रा चार्ज लेने का फैसला किया है। एक जनवरी से थर्ड पार्टी ऐप पर 30% का कैप लगा दिया गया है। लेकिन यह चार्ज पेटीएम पर लागू नहीं होगा।

लैंडलाइन से मोबाइल पर फोन करने पर पहले लगाना होगा जीरो

देशभर में लैंडलाइन से मोबाइल फोन पर कॉल करने के लिए आज (1 जनवरी) से नंबर से पहले जीरो लगाना जरूरी हो गया है। TRAI ने इस तरह के कॉल के लिए 29 मई 2020 को नंबर से पहले जीरो (0) लगाने को कहा था। टेलीकॉम कंपनियों को इससे अधिक नंबर जारी करने में मदद मिलेगी। टेलकॉम कंपनियों को मोबाइल सेवाओं के लिए 254.4 करोड़ एक्स्ट्रा नंबर तैयार करने में मदद मिलेगी।

महंगी हो गई कारें

आज से कार खरीदना काफी महंगा हो गया है क्योंकि कई कार बनाने वाली कंपनियां आज (एक जनवरी) से कारों की कीमत में इजाफा कर रही हैं। मारुति सुजुकी, फॉर्ड इंडिया किआ मोटर्स 1 जनवरी 2021 से अपने वाहनोों की कीमतें बढ़ा दी हैं।

कुछ स्मार्टफोन पर नहीं चलेगा WhatsApp

एक जनवरी 2021 से एंड्रॉयड और आईफोन के कुछ स्मार्टफोन में WhatsApp काम करना बंद कर देगा। रिपोर्ट के मुताबिक iOS 9 और एनड्रॉयड 4.0.3 ऑपरेटिंग सिस्टम से पुराने वर्जन पर   WhatsApp नहीं चलेगा। पुराने आईफोन पर भी WhatsApp नहीं चलेगा। हालांकि पुराने सॉफ्टवेयर अपडेट होने पर चल सकता है। 

GST रिटर्न के नियम में बदलाव

सरकार सेल्स रिटर्न में कुछ और बदलाव की है। छोटे कारोबारियों को राहत देने के लिए जीएसटी प्रक्रिया को और आसान किया जा रहा है। सालाना 5 करोड़ रुपए तक का कारोबार करने वाले छोटे कारोबारियों को इस साल जनवरी से पूरे वर्ष में सिर्फ 4 सेल्स रिटर्न फाइल करने होंगे। इस समय मथली बेसिस पर 12 रिटर्न दाखिल करने होते हैं।

सस्ते में खरीदें टर्म प्लान

अब आप कम प्रीमियम में सरल जीवन बीमा पॉलिसी खरीद सकेंगे। बीमा कंपनियां 1 जनवरी से सरल जीवन बीमा पॉलिसी लॉन्च कर रही हैं। कम प्रीमियम में टर्म प्लान खरीदने का ऑप्शन मिलेगा। साथ ही सभी बीमा कंपनियों की पॉलिसी में शर्तों और कवर की राशि एक जैसी होगी। सरल जीवन बीमा 18 से 65 वर्ष के लोग खरीद सकेंगे। पॉलिसी 5 लाख से 25 लाख रुपए तक रहेगी।

म्यूचुअल फंड निवेश नियम में बदलाव

बाजार नियामक सेबी ने म्यूचुअल फंड के नियमों में कुछ बदलाव किए गए हैं। जो 1 जनवरी 2021 से लागू हो गया। नए नियमों के तहत अब म्यूचुअल फंड्स का 75% हिस्सा इक्विटी में निवेश करना जरूरी होगा। अभी न्यूनतम 65% है। फंडों को मिडकैप और स्मॉलकैप में 25-25% निवेश करना जरूरी होगा। 25% लार्ज कैप में लगाना होगा। पहले फंड मैनेजर्स अपनी मनमर्जी के हिसाब से आवंटन करते थे। अभी मल्टीकैप में लार्जकैप का वेटेज ज्यादा रहता है। 

तुरंत मिलेगा बिजली कनेक्शन

बिजली मंत्रालय इस साल उपभोक्ता के अधिकार के नियमों को लागू करने जा रहा है इसके बाद बिजली वितरण कंपनियों को तय अवधि के अंदर उपभोक्ताओं को सेवाएं उपलब्ध करानी होंगी। ऐसा करने में अगर वो नाकाम रहती हैं तो उनसे उपभोक्ता जुर्माना वसूल सकता है। नए नियमों के तहत मंजूरी मिलने के बाद नया कनेक्शन लेने के लिए उपभोक्ताओं को ज्यादा कागजी कार्यवाही नहीं करनी पड़ेगी। कंपनियों को शहरी इलाके में सातों दिन, नगर पालिका इलाके में 15 दिन और ग्रामीण इलाकों एक महीने के अंदर बिजली कनेक्शन देना होगा।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर