Moody's Rating: आर्थिक मोर्चे पर भारत के लिए अच्छी खबर, मूडीज ने 'नेगेटिव' रेटिंग को अपग्रेड कर किया 'स्थिर'

बिजनेस
Updated Oct 05, 2021 | 20:40 IST | भाषा

Moody's India Rating: आर्थिक मोर्चे पर भारत के लिए सुखद खबर आई है। अमेरिकी रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत की रेटिंग को नेगेटिव से बदलकर स्थिर कर दिया है।

Moody's affirms India's sovereign rating, upgrades outlook to stable
आर्थिक मोर्चे पर भारत के लिए अच्छी खबर,मूडीज ने बढ़ाई रेटिंग 
मुख्य बातें
  • मूडीज ने भारत की सरकारी साख को रखा बरकरार रखा, परिदृश्य का अपग्रेड किया ‘स्थिर’
  • मूडीज ने भारत के परिदृश्य को नकारात्मक से स्थिर श्रेणी में किया, रेटिंग को बरकरार रखा

नई दिल्ली: रेटिंग एजेंसी मूडीज ने मंगलवार को भारत की साख को बरकरार रखा और देश के परिदृश्य को नकारात्मक से स्थिर श्रेणी में कर दिया। परिदृश्य में सुधार के लिये उसने अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रणाली में गिरावट के जोखिम में कमी का हवाला दिया। मूडीज ने भारत को ‘बीएएए3’ रेटिंग दी हुई है। यह निम्न निवेश स्तर की रेटिंग है और कबाड़ के दर्जे से सिर्फ एक पायदान ऊपर है।

मूडीज ने रेटिंग में किया बदलाव

मूडीज इनवेस्टर सर्विसेज ने एक बयान में कहा, ‘हमने भारत सरकार की साख को लेकर परिदृश्य में बदलाव किया और इसे नकारात्मक से स्थिर श्रेणी में किया है। साथ ही देश की विदेशी मुद्रा तथा स्थानीय मुद्रा दीर्घकालीन निर्गमकर्ता रेटिंग और स्थानीय मुद्रा रेटिंग (सीनियर अनसिक्योर्ड) बीएए3 पर बरकरार रखी गयी है।’मूडीज के अनुसार परिदृश्य को नकारात्मक से बदलकर स्थिर करने के निर्णय का कारण वास्तविक अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रणाली के बीच नकारात्मक प्रतिक्रिया से उसमें गिरावट का जोखिम का कम होना है।

रेटिंग में कही ये बात

रेटिंग एजेंसी ने कहा, ‘बेहतर पूंजी और नकदी की अच्छी स्थिति से बैंक तथा गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थानों के स्तर पर जोखिम पूर्व के अनुमान के मुकाबले कम हुए हैं।’ उसने कहा, ‘अधिक कर्ज बोझ और ऋण वहन को लेकर कमजोर स्थिति के चलते जोखिम बना हुआ है। लेकिन मूडीज को उम्मीद है कि आर्थिक परिवेश अगले कुछ वर्षों में केंद्र एवं राज्यों सरकारों के राजकोषीय घाटे को धीरे-धीरे कम करने में मददगार होगा। इससे सरकारी साख में और गिरावट को रोका जा सकेगा।’

उल्लेखनीय है कि मूडीज इनेवेस्टर्स सर्विस ने पिछले साल भारत की साख को ‘बीएए2’ से कम कर ‘बीएए3’ कर दिया था। उसने कहा था कि सतत रूप से निम्न वृद्धि और बिगड़ती राजकोषीय स्थिति के जोखिम को कम करने के लिये नीतियों के कार्यान्वयन के स्तर पर चुनौतियां होंगी।’ मूडीज ने रेटिंग को लेकर परिदृश्य नकारात्मक रखा था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर