Monthly Bill: महंगाई की मार, बढ़ेगा आपका मासिक घरेलू खर्च, जानें क्यों

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 08, 2021 | 18:22 IST

Monthly Bill: ग्रोसरी से लेकर पैकेज्ड फूड तक, आपका मासिक घरेलू खर्च बढ़ने वाला है। ऐसा इसलिए क्योंकि माल ढुलाई, पैकेजिंग और कृषि-वस्तुएं महंगी हो गई हैं।

Monthly Bill
Monthly Bill: बढ़ेगा आपका मासिक घरेलू खर्च (Pic: iStock) 

Monthly Bill: ग्रोसरी (Grocery) से लेकर पर्सनल केयर की जरूरी चीजों और पैकेज्ड फूड (Packaged food) तक, हर चीज का बिल बढ़ने वाला है क्योंकि माल ढुलाई, पैकेजिंग और कृषि-वस्तुएं महंगी हो गई हैं।

गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन लिमिटेड (GCMMF) के एमडी आरएस सोढ़ी, जो अमूल (Amul) ब्रांड के मालिक हैं, ने ईटी को बताया कि, 'हमें उम्मीद है कि इस गर्मी के मौसम में सभी डेयरी उत्पादों की कीमतें बढ़ेंगी।' उन्होंने आगे कहा कि डेयरी क्षेत्र में वैश्विक स्तर पर मुद्रास्फीति लगभग 10 फीसदी है।

और बढ़ सकती हैं खाद्य कीमतें
नेस्ले इंडिया (Nestle India), पैकेज्ड फूड्स के मैनेजिंग डायरेक्टर सुरेश नारायणन ने कहा कि खाद्य जिंसों की ऊंची कीमतों के कारण अगला साल मुश्किल भरा होगा। उन्होंने आने वाले समय में खाद्य कीमतों में और बढ़ोतरी की उम्मीद जताई है।

उन्होंने आगे कहा कि अर्थव्यवस्था के खुलने से मांग में वृद्धि हुई है, जिससे दूध की कीमतों में बढ़त आई है। इसके आगे और बढ़ने की उम्मीद है। वैश्विक कॉफी की कीमतें भी तेल परिसर, पैकेजिंग सामग्री के कारण भी बढ़ रही हैं, इसकी वजह से कीमतों में 4 से 5 फीसदी की वृद्धि हुई है। डेटॉल हैंड वॉश और लाइजोल डिसइंफेक्टेंट बनाने वाली कंपनी रेकिट बेंकिजर के प्रबंधन ने सितंबर तिमाही के आय सम्मेलन में कहा था कि कंपनी सभी बाजारों में मुद्रास्फीति से निपट रही है।

डाबर के सीईओ मोहित मल्होत्रा ​​ने गुरुवार को एक निवेशक कॉल में कहा, 'हमने इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में लगभग 9 फीसदी की मुद्रास्फीति देखी और प्रभाव को कम करने के लिए कीमतों में 3 से 4 फीसदी की वृद्धि की।' उन्होंने आगे कहा कि कंपनी को उम्मीद थी कि सितंबर तिमाही तक मुद्रास्फीति में नरमी आएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा, 'हम एक और तिमाही के लिए स्थिति पर नजर रखेंगे और अगर मुद्रास्फीति और बढ़ती है, तो हम चौथी तिमाही में बोदापा कीमतों में बढ़ोतरी करने पर विचार करेंगे।'

कीमतें बढ़ा रही हैं FMCG कंपनियां
एक प्रमुख एफएमसीजी वितरक के हवाले से ईटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी ने बड़े पैक की कीमत में वृद्धि का संकेत दिया था, लेकिन छोटे पैक प्रभावित नहीं होंगे। आधुनिक व्यापार और शहरी उपभोग के लिए बनाए गए ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर बड़े पैक्स की बिक्री पर अधिक कीमतें प्रभावित होंगी। यह वृद्धि 2 से 10 फीसदी की होगी, जो अधिकांश वस्तुओं पर पहले ही की जा चुकी है। हिंदुस्तान यूनिलीवर, प्रॉक्टर एंड गैंबल, मैरिको, डाबर, नेस्ले और गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स जैसी सभी एफएमसीजी कंपनियां पिछले 6 से 8 महीनों से कीमतें बढ़ा रही हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर