MP Stamp Duty : महाराष्ट्र के बाद मध्य प्रदेश में फ्लैट हुआ सस्ता, शिवराज सरकार ने घटाई स्टाम्प ड्यूटी की दरें

घर का सपना साकार करने के लिए राज्य सरकारें आगे आर रही हैं। महाराष्ट्र के बाद अब मध्य प्रदेश सरकार ने स्टाम्प ड्यूटी में कटौती का ऐलान किया। 

Madhya Pradesh slashes stamp duty rates by 2% After Maharashtra, flats became cheaper
सस्ता हुआ घर 

Real Estate : महाराष्ट्र के बाद अब मध्यप्रदेश में भी घर खरीदा सस्ता हो जाएगा। क्योंकि मध्य प्रदेश (MadhyaPradesh) सरकार ने भी स्टाम्प ड्यूटी (stamp duty) घटाकर 02% करने का फैसला किया। इस फैसले के बाद भोपाल, इंदौर, जबलपुर समेत राज्य के तमाम शहरों में घरों की कीमतें कम हो जाएंगी। शहरी क्षेत्र में बिक्री और खरीद पर स्टांप शुल्क 1 दिसंबर तक 3% से घटाकर 1% कर दिया गया है। इससे पहले जब महाराष्ट्र सरकार ने जब  स्टाम्प ड्यूटी घटाया था तब इस फैसले का  स्वागत करते हुए रियल एस्टेट इंडस्ट्री ने कहा था कि सरकार के इस फैसले से घरों की बिक्री बढ़ेगी। क्योंकि लोगों को घर सस्ते दरों परे मिलेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कहा कि इस कदम का उद्देश्य रियल एस्टेट सेक्टर को बढ़ावा देना है और आने वाले दिनों में इस तरह की और पहल की घोषणा की जाएगी। चौहान ने कहा कि लॉकडाउन के कारण आर्थिक गतिविधि बंद हो गई थी। रियल एस्टेट सेक्टर भी प्रभावित हुआ है क्योंकि लोगों की वित्तीय क्षमता कम हो गई है। उन्होंने कहा कि हम अर्थव्यवस्था को रिस्टार्ट करना चाहते हैं और हम चाहते हैं कि रियल एस्टेट सेक्टर अच्छा करे। हमने स्टाम्प शुल्क में 2% की कमी की है और मुझे विश्वास है कि इससे सेक्टर में लेनदेन की संख्या बढ़ेगी।

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने स्टाम्प ड्यूटी को में 1 सितंबर से 31 दिसंबर 2020 तक के लिए 03% और एक जनवरी 2021 से 31 मार्च 2021 तक के लिए 02% की कटौती करने की घोषणा की थी। इसके बाद ऐसा माने जाने लगा कि लोग अब मुंबई, पुणे, नागपुर जैसे शहरों में कम कीमतों में घर या प्लॉट खरीद सकेंगे।

राजस्थान स्थित भौमिका समूह के एमडी उद्धव पोद्दार ने कहा था, 'रियल एस्टेट सबसे बड़ी जॉब क्रिएटर इंडस्ट्री में से एक है और स्टांप ड्यूटी में कमी से सेल्स और प्रॉडक्शन में बढ़ोतरी होगी।' 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर