LTC cash voucher scheme : गैर केंद्रीय कर्मचारियों के लिए भी एलटीसी कैश वाउचर स्कीम, जानें कैसे मिलेगा लाभ

गैर-केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए भी एलटीसी कैश वाउचर योजना है। जानिए इसके तहत कैसे लाभ उठाया जा सकता है। 

LTC cash voucher scheme for those who are not central government employees, know how to get benefits
गैर-केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को भी एलटीसी कैश वाउचर योजना का फायदा 

LTC Cash Voucher Scheme: सरकार ने एलटीसी कैश वाउचर योजना का लाभ उठाने वाले गैर-केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों के लिए एलटीसी किराया के बराबर कैश पेमेंट के लिए इनकम टैक्स छूट का ऑफर देने का फैसला किया है। अपने बयान में सरकार ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से देशव्यापी लॉकडाउन, परिवहन के परिचालन में रुकावट और सर्विस सेक्टर में व्यवधान को देखते हुए साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग की वजह से कई कर्मचारी 2018-21 के वर्तमान ब्लॉक में यात्रा रियायत (एलटीसी) का लाभ उठाने में सक्षम नहीं है।

गैर-केंद्र सरकार के कर्मचारियों को भी लाभ प्रदान करने के लिए एलटीसी किराया के बराबर कैश पेमेंट के समान इनकम टैक्स में छूट प्रदान करने का फैसला लिया गया है। उसके अनुसार, गैर-केंद्र सरकार के कर्मचारियों को प्रति व्यक्ति (राउंड ट्रिप) के रूप में नकद भत्ते के पेमेंट अधिकतम 36,000 रुपए प्रति व्यक्ति, डीम्ड एलटीसी किराया के तौर पर शर्तों के साथ इनकम टैक्स छूट दी जाएगी।

गैर-केंद्र सरकार के कर्मचारी द्वारा समझा जाने वाला एलटीसी किराया प्राप्त करने की इनकम छूट निम्नलिखित शर्तों की पूर्ति के अधीन होगी: -

  1. कर्मचारी ब्लॉक वर्ष 2018-21 में लागू एलटीसी के एवज में डीम्ड एलटीसी किराया का एक ऑप्शन का उपयोग करता है।
  2. कर्मचारी वस्तुओं/सेवाओं की खरीद पर डिम्ड एलटीसी के मूल्य के तीन गुना के बराबर राशि खर्च करता है। जिस पर रजिस्टर्ड विक्रेताओं/सेवा प्रदाताओं ('निर्दिष्ट व्यय') पर 12% से कम की जीएसटी नहीं होती है। 12 अक्टूबर, 2020 से 31 मार्च, 2021 (निर्दिष्ट अवधि) की अवधि के दौरान डिजिटल मोड के जरिए पेमेंट करता है। जीएसटी संख्या और भुगतान किए गए जीएसटी की राशि का संकेत देने वाला एक वाउचर प्राप्त करता है।
  3. कोई कर्मचारी जो निर्दिष्ट अवधि के दौरान निर्दिष्ट व्यय पर तीन बार से कम डिम्ड एलटीसी किराया का खर्च करता है, वह पूरी तरह से एलटीसी किराया और संबंधित इनकम टैक्स छूट की पूरी राशि प्राप्त करने का हकदार नहीं होगा और दोनों की राशि आनुपातिक रूप से कम हो जाएगी।

डिम्ड एलटीसी किराया इस प्रकार है:-

  1. कर्मचारी जो बिजनेस क्लास एयरफेयर के हकदार हैं: 36,000 रुपए (प्रति व्यक्ति राउंड ट्रिप)
  2. इकोनॉमी क्लास एयरफेयर के हकदार कर्मचारी: 20,000 रुपए (प्रति व्यक्ति राउंड ट्रिप)
  3. कर्मचारी जो किसी भी कटैगरी के रेल फेयर के हकदार हैं: 6,000 रुपए (प्रति व्यक्ति राउंड ट्रिप)

डीम्ड एलटीसी किराया को इस प्रकार समझें-

  1. डीम्ड एलटीसी किराया: 20,000 रुपए x 4 = 80,000 रुपए
  2. खर्च की जाने वाली राशि: 80,000 रुपए x 3 = 2,40,000 रुपए

अगर कोई कर्मचारी निर्दिष्ट खर्च पर 2,40,000 रुपए या उससे अधिक खर्च करता है, तो वह पूरी तरह से डिम्ड एलटीसी किराया और इनकम टैक्स छूट के लिए हकदार होगा। हालांकि, अगर कर्मचारी केवल 1,80,000 रुपए खर्च करता है। तब वह 75% (यानी 60,000 रुपए) के लिए डिम्ड एलटीसी किराया और संबंधित इनकम टैक्स छूट के हकदार होंगे। मामले में कर्मचारी नियोक्ता से एडवांस में 80,000 रुपए लिया है तो उसे नियोक्ता को 20,000 रुपए लौटाना होगा क्योंकि वह आवश्यक राशि का केवल 75% खर्च कर सकता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर