Investment Tips: छोटे निवेश के माध्यम से बड़ा कोष बनाने में काम आएगी ये रणनीति, आप भी जानें

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 18, 2021 | 15:23 IST

Investment Tips: बाजार में आई गिरावट से निवेशकों को घबराना नहीं चाहिए और न ही अपना एसआईपी बंद करना चाहिए।

Investment Tips
Investment Tips: छोटे निवेश को बढ़ाने के लिए काम आएगी ये रणनीति (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • म्यूचुअल फंड में निवेश का सबसे सुरक्षित तरीका सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान है।
  • SIP में लंबी अवधि में ज्यादा रिटर्न की संभावना होती है।
  • आपको एसआईपी में 15 से 20 साल तक जारी रखना चाहिए।

Investment Tips: म्‍यूचुअल फंड (Mutual Fund) निवेशकों के लिए सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्‍लान (SIP) निवेश का एक बेहतर विकल्प है। इक्विटी म्यूचुअल फंड (MF) योजना में एसआईपी करने के पीछे उद्देश्य किसी आवधि में छोटे निवेश के माध्यम से एक बड़ा कोष बनाना है। जो लोग पिछले पांच वर्षों में म्यूचुअल फंड योजनाओं में एसआईपी के माध्यम से निवेश कर रहे हैं, उन्हें पहले ही इसकी क्षमता का एहसास हो गया है क्योंकि बाजार में आई तेजी की वजह से उनका निवेश दोगुना से अधिक हो गया है। निवेश विशेषज्ञों के अनुसार, आपको अपने एसआईपी को लंबे समय तक यानी 15 से 20 साल तक जारी रखना चाहिए।

सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर (CFP-CM) Suchismita Jena के मुताबिक, 'अगर 15-20 साल की अवधि के लिए एसआईपी जारी रखा जाता है, तो किसी को भी पूरी निवेश अवधि के लिए आसानी से 12 फीसदी CAGR मिल सकता है।' जेना ने कहा कि, 'जब बाजार में गिरावट आती है तो किसी को घबराना नहीं चाहिए और न ही अपना एसआईपी बंद करना चाहिए। बल्कि उन्हें कम NAV पर अधिक यूनिट प्राप्त करने के लिए एकमुश्त निवेश करना चाहिए। इससे उनका रिटर्न और अधिक बढ़ जाएगा।

उदाहरण से समझें निवेशकों को कितना होगा फायदा
उदाहरण के लिए, यदि आप बाजार में 10 फीसदी करेक्शन के बाद डायवर्सिफाइड इक्विटी एमएफ योजना में 2 लाख रुपये का एकमुश्त निवेश करते हैं और अगले 10 वर्षों के लिए उसी फंड में 2,500 रुपये का मासिक एसआईपी जारी रखते हैं, तो आपके 5 लाख रुपये का मूल्य निवेश (2 लाख रुपये एकमुश्त निवेश + एसआईपी के माध्यम से 3 लाख रुपये) 10 वर्षों में 12 फीसदी के अनुमानित CAGR पर बढ़कर 12 लाख रुपये से ज्यादा हो जाएगा।

इसके अलावा, अगर आप एसआईपी को जारी रखे बिना अगले 15 वर्षों तक फंड को जारी रखते हैं, तो 12 फीसदी CAGR के हिसाब से यह निवेश बढ़कर 66 लाख रुपये हो जाएगा। हालांकि, अगर आप 2 लाख रुपये का एकमुश्त निवेश करने के बाद पूरे 25 साल की अवधि के लिए एसआईपी जारी रखते हैं, तो कॉर्पस और भी बड़ा होगा। ऐसे में आप कुल 90 लाख रुपये की संपत्ति जमा कर सकते हैं (आपका एकमुश्त निवेश बढ़कर 43 लाख रुपये हो जाएगा और आपका एसआईपी निवेश बढ़कर 47 लाख रुपये हो जाएगा)।

Disclaimer: इस खबर के माध्यम से टाइम्स नाउ नवभारत का उद्देश्य सिर्फ आपको जानकारी प्रदान करने का है। आप किसी विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद ही निवेश करें।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर