दिल्ली में अब एलपीजी सिलेंडर की कीमत 1550 रुपए, महंगाई की मार

महंगाई की मार का आलम यह है कि रसोई गैस की कीमतों में भी आग लगी है। दिल्ली में 14.2 किलो वाली एलपीजी सिलेंड की कीमत में 76 रुपये की बढ़ोतरी के साथ 1550 रुपय हो गई है।

lpg cylinder price in delhi, lpg cylinder price in mumbai, lpg cylinder price in kolkata, lpg cylinder price in chennai
महंगाई की मार का असर, एलपीजी सिलेंजर की कीमतों में इजाफा 

मुख्य बातें

  • घरेलू गैस की कीमतों में पिछले 6 महीनों में 5वीं बार बढ़ोतरी
  • दिल्ली में एलपीजी सिलेंडर की कीमत में सबसे अधिक इजाफा, 1550 रुपए
  • कोलकाता में 860.50 रुपए, मुंबई में 834.50 रुपए, चेन्नई में 850 रुपए

पहले से ही शहरों में रिकॉर्ड उच्च पेट्रोल और डीजल की कीमतों का खामियाजा उपभोक्ताओं को रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि के अतिरिक्त दबाव का सामना करना पड़ रहा है।गुरुवार यानी 1 जुलाई से प्रभावी सभी मेट्रो शहरों में गैर-सब्सिडी वाले घरेलू तरल पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) सिलेंडर की कीमत में 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई। राष्ट्रीय राजधानी में किलो घरेलू सिलेंडर अब 76 रुपये की बढ़ोतरी के साथ 1,550 रुपये है।

दिल्ली में सबसे अधिक 76 रुपए का इजाफा
गुरुवार को 25 रुपये की बढ़ोतरी के बाद, कोलकाता में 14.2 किलो के घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत 860.50 रुपये तक पहुंच गई; मुंबई में इसकी कीमत 834.50 रुपये और चेन्नई में 850 रुपये होगी।देश की सबसे बड़ी ईंधन रिटेलर इंडियन ऑयल अपने ब्रांड इंडेन के तहत एलपीजी का विपणन करती है। आमतौर पर, गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडरों की दरों की मासिक आधार पर समीक्षा की जाती है और परिवर्तन, यदि कोई हो, प्रत्येक महीने के पहले दिन प्रभावी होते हैं। स्थानीय करों के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में रसोई गैस की दरें अलग-अलग हैं। इंडियन ऑयल 1 जुलाई से अपनी वेबसाइट पर अद्यतन कीमतों को प्रकाशित करेगा।

अलग अलग शहरों में कीमत

  1. दिल्ली- 1550 रुपए
  2. कोलकाता- 860.50 रुपए
  3. मुंबई- 834.50 रुपए
  4. चेन्नई- 850 रुपए

पिछले 6 महीनों में पांचवीं बार बढ़ोतरी
रसोई गैस की कीमतों में पिछले 6 महीनों में लगातार पांच बढ़ोतरी के कारण प्रति सिलेंडर 140 रुपये की वृद्धि हुई है। वर्ष 2021 में, एलपीजी की कीमतों में पहले 4 फरवरी को 25 रुपये और फिर 14 फरवरी को 50 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी। 25 फरवरी को तीसरी बढ़ोतरी, कीमतों में फिर से 25 रुपये और फिर 1 मार्च को 25 रुपये की बढ़ोतरी हुई। पश्चिम बंगाल चुनाव के समय 1 अप्रैल को प्रति सिलेंडर 10 रुपये की कटौती के साथ उपभोक्ताओं के रास्ते में राहत दी गई थी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर