तीर्थ और आस्था के साथ भारतदर्शन, रामायण सर्किट यात्रा के लिए IRCTC पर बुक करें टिकट

बिजनेस
कुंदन सिंह
कुंदन सिंह | Special Correspondent
Updated Sep 04, 2021 | 18:49 IST

रेलवे रामायण एक्‍सप्रेस का नया सीजन शुरू करने जा रहा है। यात्रा दिल्‍ली के सफदरजंग रेलवे स्‍टेशन से 7 नवंबर को शुरू होगी। 17 दिनों की यात्रा में देशभर में भगवान राम से जुड़े तीर्थ स्‍थलों के दर्शन कर सकेंगे।

तीर्थ और आस्था के साथ भारतदर्शन, रामायण सर्किट यात्रा के लिए IRCTC पर बुक करें टिकट
तीर्थ और आस्था के साथ भारतदर्शन, रामायण सर्किट यात्रा के लिए IRCTC पर बुक करें टिकट (फोटो साभार : IRCTC) 

नई दिल्‍ली : भगवान श्रीराम में आस्था रखने वाले श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी। भारतीय रेलवे एक बार फिर श्री राम से जुड़े तीर्थ स्थलों के दर्शन के लिए श्री रामायणा एक्सप्रेस का नया सीजन शुरू करने जा रही है। रामायणा एक्सप्रेस इस बार दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से 7 नवंबर को चलेगी। इस बार रामायणा एक्सप्रेस में स्लीपर के अलावा एयरकंडीशन कोच भी उपलब्ध होंगे। 17 दिनों की कुल यात्रा में भक्त देशभर में फैले भगवान श्रीराम से जुड़े तमाम तीर्थ स्थलों का दर्शन कर सकेंगे।

यात्रा की बुकिंग आईआरसीटीसी के वेबसाइट पर उपलब्ध है। यात्रा में शामिल सभी यात्रियों को कोविड के दोनो डोज टीके का प्रमाण-पत्र भी लाना होगा। अधिक जानकारी के आईआरसीटीसी की वेबसाइट https://www.irctctourism.com पर जाकर ऑनलाइन बुकिंग भी कर सकते हैं। बुकिंग की सुविधा आधिकारिक वेबसाइट पर पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर उपलब्ध है।

श्रीराम से जुड़े तीर्थ स्थल के होंगे दर्शन 

दिल्ली के सफदरजंग से शुरू होने 17 दिनों की इस यात्रा का पहला पड़ाव श्रीराम की जन्म स्थान अयोध्या होगा, जहां श्रीराम जन्मभूमि मंदिर श्री हनुमान मंदिर व नंदीग्राम में भरत मंदिर का दर्शन कराया जाएगा। अयोध्या से रवाना होकर यह ट्रेन बिहार के सीतामढ़ी जाएगी, जहां जानकी जन्म स्थान वह नेपाल के जनकपुर स्थित राम जानकी मंदिर का दर्शन प्राप्त किया जा सकेगा। ट्रेन का अगला पड़ाव भगवान शिव की नगरी काशी होगा, जहां से पर्यटक बसों द्वारा काशी के प्रसिद्ध मंदिरों सहित सीता समाहित स्थल, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर व चित्रकूट की यात्रा करेंगे। इस दौरान काशी प्रयाग व चित्रकूट में रात्रि विश्राम होगा। 

चित्रकूट से चलकर यह ट्रेन नासिक पहुंचेगी, जहां पंचवटी व त्रयंबकेश्वर मंदिर का भ्रमण किया जा सकेगा। नासिक के पश्चात प्राचीन किष्किंधा नगरी हंपी इस ट्रेन का अगला पड़ाव होगा, जहां अंजनी पर्वत स्थित श्री हनुमान जन्म स्थल व अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक व विरासत मंदिरों का दर्शन कराया जाएगा। इस ट्रेन का अंतिम पड़ाव रामेश्वरम होगा। रामेश्वरम में पर्यटकों को प्राचीन शिव मंदिर व धनुषकोडी का दर्शन लाभ प्राप्त होगा। रामेश्वरम से चलकर यह ट्रेन 17वें दिन दिल्ली वापस पहुंचेगी। इस दौरान ट्रेन द्वारा लगभग 7500 किलोमीटर की यात्रा पूरी की जाएगी। 

क्या हैं सुविधाएं और किराया

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस पूर्णतया वातानुकूलित पर्यटक ट्रेन में यात्री कोच के अतिरिक्त दो रेल डाइनिंग रेस्तरां एक आधुनिक किचन कार व यात्रियों के लिए फुट मसाजर, मिनी लाइब्रेरी, आधुनिक एवं स्वच्छ शौचालय और शॉवर क्यूबिकल आदि की सुविधा भी उपलब्ध होगी। साथ ही सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड, इलेक्ट्रॉनिक लॉकर एवं सीसीटीवी कैमरे भी प्रत्येक कोच में उपलब्ध रहेंगे।

आईआरसीटीसी ने एसी प्रथम श्रेणी की यात्रा के लिए रु 102095/- प्रति व्यक्ति एवं एसी द्वितीय श्रेणी की यात्रा के लिए रु 82950/- प्रति व्यक्ति का शुल्क निर्धारित किया है। इस टूर पैकेज की कीमत में यात्रियों को रेल यात्रा के अतिरिक्त स्वादिष्ट शाकाहारी भोजन, वातानुकूलित बसों द्वारा पर्यटक स्थलों का भ्रमण, एसी होटलों में ठहरने की व्यवस्था, गाइड व इंश्योरेंस आदि कि सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी। 

कोविड के चलते साफ सफाई पर रहेगा, विशेष ध्यान  

वैसे तो आईआरसीटीसी अलग-अलग टुरिस्ट सर्किट के लिए समय समय पर ट्रेने चलाया करता है। आईआरसीटीसी के पीआरओ आनंद झा बताते हैं कि यह विशेष पर्यटक ट्रेन, पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार की पहल 'देखो अपना देश' के अनुरूप, घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए चलाई जा रही है। सरकार और पीएसयू के कर्मचारी इस यात्रा पर वित्त मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एलटीसी सुविधा का लाभ भी उठा सकते हैं। 

इस यात्रा के दौरान आईआरसीटीसी की टीम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य संबंधी सभी प्रोटोकॉल का ध्यान रखेगी एवं यात्रियों को सुरक्षित व चिंता मुक्त अनुभव देने का प्रयास करेगी। आईआरसीटीसी सभी पर्यटकों को फेस मास्क, हैंड ग्लव्स और सैनिटाइज़र रखने के लिए एक सुरक्षा किट भी प्रदान करेगी। सभी पर्यटकों और कर्मचारियों का तापमान जांच व हाल्ट स्टेशनों पर बार-बार ट्रेन सैनिटाइजेशन आदि सुनिश्चित किया जाएगा। सभी कर्मचारियों की अच्छी तरह से जांच की जाएगी और प्रत्येक भोजन सेवा के बाद रसोई और रेस्तरां को साफ व सैनिटाइज किया जाएगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर