Indian Railway News: ट्रेन से सफर करने वालों के लिए खुशखबरी, 15 फीसदी तक सस्ती हो सकती है टिकट

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 16, 2021 | 16:06 IST

Indian Railway News: भारतीय रेलवे ने स्पेशल ट्रेनों को रेगुलर बनाने की प्रक्रिया शुरू की है। इससे किराए में 15 फीसदी की कमी आ सकती है।

Indian Railway News
Indian Railway News: 15 फीसदी तक सस्ती हो सकती है टिकट (Pic: टाइम्स नाउ नवभारत) 
मुख्य बातें
  • रेलवे ने रेगुलर ट्रेनें बहाल करने की प्रक्रिया शुरू की।
  • कोरोना का प्रकोप कम होने के बाद रेलवे ने यह फैसला लिया।
  • ट्रेनों के रेगुलर होने से किराए में कमी आएगी।

Indian Railway News: ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों (Train passengers) के लिए राहत भरी खबर है। ऐसा इसलिए क्योंकि ट्रेन की टिकट 15 फीसदी तक सस्ती हो सकती है। दरअसल पिछले हफ्ते, भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने स्पेशल ट्रेनों (Special trains) को रेगुलर बनाने की प्रक्रिया शुरू की थी, यानी सामान्य यात्री ट्रेन संचालन को फिर से शुरू करने का फैसला लिया गया। देश में महामारी का प्रकोप कम होने के बाद ट्रेनों के रेगुलर होने से किराए में कमी आएगी।

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार, रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, 'COVID​​-19 महामारी के दौरान शुरू की गई विशेष ट्रेनों को सामान्य ट्रेन सेवाओं से बदल दिया गया है। इसकी वजह से यात्री किराए में लगभग 15 फीसदी की कमी आएगी।'

चालू वित्त वर्ष में सितंबर तक यात्री किराए से हुई इतनी कमाई
लगभग 1700 ट्रेनों में, जिन्हें 'विशेष' का टैग दिया गया था, आने वाले दिनों में किराए में कमी देखी जाएगी। मालूम हो कि चालू वित्त वर्ष के पहले छह महीनों में, राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर के जरिए 1180.19 मिलियन यात्रियों ने सफर किया, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के दौरान यह आंकड़ा 69.88 मिलियन था। चालू वित्त वर्ष में सितंबर तक भारतीय रेलवे ने यात्री किराए से 15,434.18 करोड़ रुपये की कमाई की। वहीं पिछले साल सितंबर 2020 तक रेलवे ने यात्री किराए से 1,258.74 करोड़ रुपये कमाए थे। यह महामारी से पहले की अवधि की तुलना में बहुत कम है। 2019-20 में रेलवे से 4,173.52 मिलियन यात्रियों ने सफर किया और सितंबर 2019 तक 26,642.73 करोड़ रुपये कमाए थे।

COVID-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए भारतीय रेलवे ने अन्य सभी उपायों को जारी रखा है। इनमें ट्रेनों में पका हुआ खाना नहीं परोसना और प्लेटफॉर्म टिकट के लिए उच्च दरें शामिल हैं। प्लेटफॉर्म टिकट की उच्च दरों का उद्देश्य रेलवे स्टेशनों पर भीड़ को रोकना है। इस पर अधिकारी ने कहा कि, 'COVID-19 महामारी अब भी है, ऐसे में हम टिकटों की ओवर-द-काउंटर बिक्री या पका हुआ खाना परोसने की अनुमति नहीं देना जारी रखेंगे।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर