GST Collection: नवंबर में सरकारी खाते में आए 131526 करोड़ रुपये, 25 फीसदी ज्यादा कलेक्शन

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Dec 01, 2021 | 14:23 IST

GST Collection: नवंबर महीने में कुल जीएसटी संग्रह 1,31,526 करोड़ रुपये रहा, जो जीएसटी लागू होने के बाद से दूसरा सबसे अधिक है।

GST Collection
GST Collection: नवंबर में सरकारी खाते में आए 131526 करोड़ रुपये (iStock) 
मुख्य बातें
  • नवंबर में हुआ जीएसटी संग्रह पिछले महीने के संग्रह को पार कर गया।
  • लगातार दूसरे महीने जीएसटी संग्रह 1.30 लाख करोड़ के आंकड़े को पार कर गया।
  • नवंबर में GST राजस्व पिछले साल के इसी महीने की तुलना में 25 फीसदी अधिक है।

GST Collection: माल और सेवा कर (GST) संग्रह नवंबर में 1.31 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो भारत में 2017 में अप्रत्यक्ष कर प्रणाली (Indirect Tax System) लागू होने के बाद दूसरा सबसे ज्यादा जीएसटी कलेक्शन है। इस वित्त वर्ष अप्रैल में उच्चतम जीएसटी संग्रह 1.40 लाख करोड़ रुपये के करीब था।

नवंबर में जीएसटी राजस्व पिछले साल के इसी महीने की तुलना में 25 फीसदी अधिक रहा। वहीं देश में कोरोना वायरस के दस्तक देने से पहले, यानी 2019-20 की समान अवधि की तुलना में यह आंकड़ा 27 फीसदी अधिक है। इस साल अक्टूबर में एकत्र किए गए 1.30 लाख करोड़ रुपये से यह आंकड़ा 1.1 फीसदी अधिक है।

चालू वित्त वर्ष के दौरान हर महीने इतना रहा जीएसटी कलेक्शन

  • अप्रैल 2021 - 139708 करोड़ रुपये
  • मई 2021 - 97821 करोड़ रुपये
  • जून 2021 - 92800 करोड़ रुपये
  • जुलाई 2021 - 116393 करोड़ रुपये
  • अगस्त 2021 - 112020 करोड़ रुपये
  • सितंबर 2021 - 117010 करोड़ रुपये
  • अक्टूबर 2021 - 130127 करोड़ रुपये
  • नवंबर 2021 - 131526 करोड़ रुपये

लगातार दूसरे महीने 1.30 लाख करोड़ के पार रहा संग्रह
लगातार दूसरे महीने सकल जीएसटी संग्रह 1.30 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गया। नवंबर 2021 के महीने में एकत्रित सकल जीएसटी राजस्व 1,31,526 करोड़ रुपये रहा, जिसमें CGST 23,978 करोड़ रुपये, SGST 31,127 करोड़ रुपये, IGST 66,815 करोड़ रुपये (आयात पर एकत्रित 32,165 करोड़ रुपये सहित) और उपकर 9,606 करोड़ रुपये (आयात पर एकत्रित 653 करोड़ रुपये सहित) शामिल है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर