Cryptocurrency पर लगेगी लगाम, संसद के शीतकालीन सत्र में आएगा क्रिप्टोकरेंसी बिल

बिजनेस
किशोर जोशी
Updated Nov 23, 2021 | 21:52 IST

Cryptocurrency Bill: 29 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है। इस बार इस सत्र में 26 विधेयक पेश किए जाएंगे जिनमें क्रिप्‍टोकरेंसी बिल भी शामिल है। 

Govt to introduce Cryptocurrency & Regulation of Official Digital Currency Bill, 2021 in winter session of Parliament
क्रिप्टोकरेंसी पर लगेगी लगाम, शीतकालीन सत्र में आएगा बिल 
मुख्य बातें
  • संसद के शीतकालीन सत्र के लिए 26 विधेयक सूचीबद्ध
  • क्रिप्टोकरेंसी पर और तीन कृषि कानूनों को वापस लेने वाला विधेयक भी शामिल
  • संसद सत्र से पहले रविवार को सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

नई दिल्ली: जल्द ही क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) पर शिकंजा कसने जा रहा है। सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में 'द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021' पेश करेगी। इसके अलावा तीन कृषि कानूनों को वापस लेने वाला विधेयक भी सूची में शामिल है। 29 नवंबर से शुरू हो रहे सत्र के काफी हंगामेदार होने के आसार है। क्रिप्टोकरेंसी विधेयक आरबीआई द्वारा जारी की जाने वाली आधिकारिक डिजिटल मुद्रा के निर्माण के लिए एक सुविधाजनक ढांचा तैयार करना चाहता है और भारत में सभी निजी क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लगाना चाहता है।

आरबीआई के लिए तैयार होगा रास्ता

खबर के मुताबिक, आरबीआई द्वारा जारी की जाने वाली आधिकारिक डिजिटल मुद्रा के निर्माण की सुविधा के लिए सरकार संसद में क्रिप्टोकरेंसी पर विधेयक पेश करेगी। क्रिप्टो करेंसी से संबंधित विधेयक में भारत में सभी निजी क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध का, लेकिन अंतनिर्हित प्रौद्योगिकियों को बढ़ावा देने के लिए कुछ अपवाद की अनुमति का प्रस्ताव होगा।

पहले होगी सर्वदलीय बैठक

आपको बता दें कि संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सरकार ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिरकत कर सकते हैं। पीटीआई के मुताबिक, संसद के दोनों सदनों में सभी राजनीतिक दलों के सदन के नेताओं को बैठक में आमंत्रित किया गया है। बैठक में मोदी के अलावा, वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और अमित शाह के साथ ही संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी भी सरकार की ओर से भाग लेंगे।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर