वर्ष 2020 में Google पर सबसे ज्‍यादा सर्च किए गए पैन कार्ड-आधार कार्ड लिंक, फास्टैग, ई-पास अप्लाई कैसे करें

Most searched Business Story in 2020: वर्ष 2020 अलविदा हो रहा है। बिजनेस से लिहाज से यह कभी नहीं भुलाया जा सकता है। गूगल में इस साल आधार कार्ड, पेन कार्ड से जुड़ी स्टोरी काफी सर्च हुई। 

Google search results 2020: pan card with Aadhaar card link, fastag recharge, how to apply e-pass were top trending 
गूगल में 2020 में सबसे ज्यादा सर्च किए गए 

मुख्य बातें

  • पैन कार्ड से आधार को कैसे लिंक करें
  • फासटैग कैसे रिचार्ज करें
  • ई-पास के लिए कैसे अप्लाई करें

Google search results 2020: वर्ष 2020 हमसे विदा हो रहा है। लेकिन कई कारण है जिसकी वजह से यह साल इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाएगा। लोगों के जेहन में हमेशा रहेगा। चाहे वह राष्ट्रीय स्तर की बात हो या अंतरराष्ट्रीय स्तर की बात हो। इस साल हमारे देश ने गूगल में कई ऐसी चीजें है जो काफी सर्च की गईं। पैन कार्ड से आधार को कैसे लिंक करें। फासटैग कैसे रिचार्ज करें। ई-पास के लिए कैसे अप्लाई करें। 

पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कैसे करें

अगर आप आधार कार्ड को पैन कार्ड से लिंक नहीं करवाते हैं तो आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ई-फाइलिंग वेबसाइट के जरिए इनकम टैक्स की साइट पर जाएं। पैन, आधार नंबर और आधार कार्ड पर जो आपका नाम है उसे भरें। अगर आधार कार्ड में केवल वर्थ का साल लिखा है तो एक्सेप्ट को टिक करें। कैप्चा कोड इंटर करें। लिंक आधार बटन पर क्लिक करें। आप इसे ऑनलाइन भी लिंक करा सकते हैं। 

फास्टैग रिचार्ज कैसे करें

ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरकर और वाहन से संबंधित जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करके फास्टैग प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा बैंक ग्राहक फास्टैग प्राप्त करने के लिए अपने बैंक की शाखा में भी जा सकते हैं, जहां उन्हें आवेदन फॉर्म भरना होगा। फास्टैग हासिल करने के बाद, यूजर्स नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग के जरिए फास्टैग पोर्टल का उपयोग करके टैग को तुरंत ऑनलाइन लोड कर सकते हैं।  फास्टैग को आधिकारिक टैग जारीकर्ताओं या बैंकों से खरीदा जा सकता है और अगर यह प्रीपेड खाते से जुड़ा है तो जरूरत के अनुसार रिचार्ज या टॉप-अप किया जा सकता है। 

ई-पास के लिए कैसे आवेदन करें

ई-पास को निश्चित ट्रैवल कैटिगरी के तहत अप्लाई किया जा सकता है। इनमें स्टूडेंट्स, जरूरी सर्विस प्रोवाइडर, टूरिस्ट, तीर्थयात्री, इमरजेंसी/मेडिकल ट्रैवल और शादी शामिल हैं। ई-पास अप्लाई करते वक्त कुछ जरूरी बातों को ख्याल रखना होगा। आपको जानकारी के साथ-साथ ट्रैवल के कारण का प्रूफ भी देना होगा। अपालई करने समय स्कैन कॉपी साथ में रखें ताकि कोई परेशान न आए।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर