गोल्ड रेट आज का: सोने की कीमत में लगातार उछाल, पहुंचा रिकॉर्ड उंचाई पर, जानिए अब क्या है भाव

Gold Price Today: कोरोना वायरस महामारी के बीच निवेशकों की पहली पसंद सोना बनता जा रहा है। इसलिए इसकी कीमत प्रतिदिन नई ऊंचाई छू रही है।

Gold prices hits record high, surge to over seven-year highs, Know Today rates
सोना का भाव (फोटो सौजन्य-Pixabay) 

नई दिल्ली: सोने की कीमतों में सोमवार को बढ़ोतरी हुई और लगातार दूसरे दिन नई ऊंचाई पर पहुंच गई। एमसीएक्स पर जून में सोने का भाव 0.76% बढ़कर 47,740 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गया। शुक्रवार को चांदी का वायदा भाव 3.15% बढ़कर 48,190 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया, जो शुक्रवार को 2,586 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी। सोने की कीमत आज 10 ग्राम प्रति 47,740 रुपए है। जहां 22 कैरेट सोने की कीमत 46,120 रुपए प्रति 10 ग्राम है, वहीं आज 24 कैरेट सोने की कीमत 6,740 रुपए है। दिल्ली में 24 कैरेट सोने का रेट आज 48,520 रुपए है। ध्यान दें कि भारत में सोने की कीमतों पर 12.5% आयात शुल्क और 3% GST शामिल हैं।

भारत में सोने का रेट
भारत में सोने की कीमतें, अंतरराष्ट्रीय सोने की कीमतों, करेंसी रेट मूवमेंट और लोकल टैरिफ समेत कई कारकों पर निर्भर करती हैं। सोने की कीमतों में उछाल का सबसे महत्वपूर्ण कारण अंतरराष्ट्रीय सोने की कीमतें हैं। जब सोने की अंतरराष्ट्रीय कीमतें बढ़ती हैं, तो भारत में सोने की दरों में भी बदलाव होता है। गौर हो कि सामान्य सोने की दर और हॉलमार्क वाली सोने की दर में कोई अंतर नहीं है। हॉलमार्क वाले सोने  पर कुछ भी एक्स्ट्रा नहीं है। यह वही दर है जिस पर सामान्य सोना बेचा जाता है। अंतर केवल इतना है कि ग्राहक हॉलमार्क युक्त सोना खरीदते समय शुद्धता सुनिश्चित करते हैं।

सात साल में सर्वाधिक ऊंचाई पर सोना
ग्लोबल बाजारों में सोना का भाव सात वर्षों में सबसे अधिक ऊंचाई पर है। फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल ने एक इंटव्यू में कहा कि अमेरिकी इकॉनोमी की रकवरी 2021 तक और नीचे जा सकती  है। पूर्ण वापसी कोरोना वायरस वैक्सीन पर निर्भर हो सकती है। अक्टूबर 2012 के बाद से सोने में सोमवार को उच्चतम वृद्धि हुई है। जिसकी वजह अमेरिका-चीन संबंधों में खटास भी है। अमेरिकी आर्थिक आंकड़ों ने पीली धातु का समर्थन किया है। 12 अक्टूबर, 2012 को हाजिर सोना 1,756.79 डॉलर प्रति औंस था। जो 0.9% बढ़कर 1,759.98 डॉलर के उच्चतम स्तर पर पहुंचा। अमेरिकी सोना वायदा 0.5% की बढ़त के साथ 1,765.70 डॉलर पर बंद हुआ।

गोल्ड ईटीएफ की बढ़ेगी मांग
गहरी ग्लोबल मंदी की चिंताओं के बीच, इस साल गोल्ड ने वैश्विक बाजारों में 16% की वृद्धि की है। नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, अमेरिकी खुदरा बिक्री और कारखाने के उत्पादन पिछले महीने महामारी की वजह लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की। अनुमान है कि अमेरिकी ब्याज नकारात्मक हो सकता है कि जिससे सोने के समर्थन वाले एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) में निवेश रिकॉर्ड ऊंचाई पर जा सकता है।

सोवरेन गोल्ड बॉन्ड्स 
पिछले कुछ हफ्तों में, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स फिजिकल गोल्ड के लिए एक अच्छा विकल्प बन गया है। बांड भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा सरकार की ओर से जारी किए जाते हैं। लेटेस्ट ट्रेंच, जो पिछले सप्ताह के सब्सक्रिप्शन के लिए बंद हुई थी, इसकी कीमत 4,590 रुपए प्रति ग्राम थी। जिन लोगों ने ऑनलाइन आवेदन किया था, वे 50 रुपए प्रति ग्राम की छूट के पात्र थे। यह अनुमान लगाया जा रहा है कि RBI जून, जुलाई, अगस्त और सितंबर में फिर से इस तरह के बॉन्ड जारी करेगा।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर