Gautam Adani wealth: 2020 में प्रतिदिन 449 करोड़ रुपए बढ़ी गौतम अडानी की संपत्ति, मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ा

अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी की संपत्ति इस साल इतनी बढ़ी कि उन्होंने मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ दिया।

Gautam Adani's wealth increased by Rs 449 crore per day in 2020, Left behind Mukesh Ambani
Mukesh Ambani, Gautam Adani   |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • मुकेश अंबानी ऐशिया के सबसे अमीर आदमी है
  • मुकेश अंबानी की संपत्ति 75 बिलियन डॉलर है
  • गौतम अडानी की संपत्ति इस साल 19.1 बिलियन डॉलर बढ़ी है

नई दिल्ली: अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी की संपत्ति इस साल सभी अमीर भारतीयों के बीच सबसे अधिक बढ़ी है। यहां तक कि उन्होंने एशिया के सबसे अमीर आदमी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी को भी पीछे छोड़ दिया। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के अनुसार, गौतम अडानी की संपत्ति इस साल 19.1 बिलियन डॉलर बढ़ी है, जो 2020 में मुकेश अंबानी द्वारा जोड़े गए 16.4 बिलियन डॉलर से अधिक है। रुपए में, अडानी ने वर्ष 2020 के पहले साढ़े 10 महीनों में अपनी संपत्ति में 1.41 लाख करोड़ रुपए का इजाफा किया। यानी प्रति दिन 449 करोड़ रुपए बढ़ोतरी हुई। स्टीव बाल्मर, लैरी पेज और बिल गेट्स से आगे अडानी दुनिया के नौवें सबसे बड़े धन निर्माता हो गए हैं।

इस साल अडानी की संपत्ति बढ़कर 30.4 बिलियन डॉलर हो गई है, जिससे वह दुनिया के 40 वें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। इस बीच, मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति अब इस वर्ष 16.4 बिलियन डॉलर जोड़ने के बाद 75 बिलियन डॉलर हो गई। वह अब ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के अनुसार दुनिया में 10वें सबसे अमीर हैं।

इस बीच, टेस्ला के एलोन मस्क ने वर्ष 2020 में दुनिया में अपने धन में अधिकतम धन जोड़ा है। जो 92 बिलियन डॉलर बढ़कर 120 बिलियन डॉलर तक बढ़ गया है। जबकि अमेजन के जेफ बेजोस और नोंगफू स्प्रिंग की झोंग शानशान की संपत्ति क्रमशः 68 बिलियन डॉलर और 57 बिलियन डॉलर बढ़ी है।

अडानी ग्रीन, अदानी एंटरप्राइजेज, अडानी गैस और अडानी ट्रांसमिशन की शेयर कीमतों में बढ़ोतरी के कारण इस साल अडानी की संपत्ति में उछाल संभव हुआ है। 2020 में अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयरों में 551% का उछाल आया है, जबकि अडानी गैस और अदानी एंटरप्राइजेज के शेयरों में क्रमशः 103% और 85% की बढ़ोतरी हुई है। इस अवधि में, क्रमशः अडानी ट्रांसमिशन और अदानी पोर्ट्स में 38% और 4% की वृद्धि हुई है, जबकि अडानी पावर में 38% की गिरावट आई है।

गौतम अडानी जिन्होंने कभी 32 साल की उम्र में वर्ष 1988 में कमोडिटी ट्रेडर के रूप में शुरुआत की थी, अब वे अन्य लोगों के बीच बंदरगाहों, हवाई अड्डों, ऊर्जा, संसाधन, रसद, कृषि व्यवसाय, रियल एस्टेट, वित्तीय सेवाओं, गैस वितरण और रक्षा व्यवसायों के मालिक हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर