Yes Bank से 466 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी : CBI ने उद्योगपति गौतम थापर पर किया केस दर्ज

बिजनेस
आईएएनएस
Updated Jun 09, 2021 | 18:14 IST

सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी के अधिकारी यस बैंक धोखाधड़ी के मामले में एक दर्जन से अधिक स्थानों पर तलाशी भी ले रहे हैं।

Fraud of Rs 466 crore from Yes Bank: CBI registers case against industrialist Gautam Thapar
यस बैंक घोटाला 

मुख्य बातें

  • सीबीआई ने यस बैंक की शिकायत पर इस साल 1 जून को मामला दर्ज किया था।
  • एक दर्जन से अधिक स्थानों पर तलाशी भी ली जा रही है।
  • सीबीआई ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और उनकी पत्नी बिंदू कपूर पर मामला दर्ज किया था।

नई दिल्ली : केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने अवंता रियलिटी के उद्योगपति गौतम थापर और ऑयस्टर बिल्डवेल प्राइवेट लिमिटेड सहित कई अन्य के खिलाफ यस बैंक से कथित तौर पर 466 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी के अधिकारी मामले के सिलसिले में एक दर्जन से अधिक स्थानों पर तलाशी भी ले रहे हैं। सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया कि एजेंसी ने यस बैंक धोखाधड़ी मामले में थापर, अवंता रियलिटी लिमिटेड, ऑयस्टर बिल्डवेल प्राइवेट लिमिटेड, रघुवीर कुमार शर्मा, राजेंद्र कुमार मंगल, तापसी महाजन, झाबुआ पावर इन्वेस्टमेंट लिमिटेड के अज्ञात अधिकारियों, झाबुआ पावर लिमिटेड के अज्ञात अधिकारियों और अन्य अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

इसके साथ ही अवंता होल्डिंग्स लिमिटेड, अवंता पावर एंड इंफ्रास्ट्रक्च र लिमिटेड के अज्ञात अधिकारियों और अज्ञात लोक सेवकों एवं निजी व्यक्तियों के खिलाफ यस बैंक धोखाधड़ी मामले में केस दर्ज किया है। सीबीआई ने यस बैंक की शिकायत पर इस साल 1 जून को मामला दर्ज किया था।

शिकायत में 2017 से 2019 की अवधि के दौरान आपराधिक विश्वासघात, धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश और जनता के धन के दुरुपयोग एवं हेराफेरी का आरोप लगाया गया, जिससे यस बैंक को 466.5 करोड़ का नुकसान हुआ।

पिछले साल मार्च में, सीबीआई ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और उनकी पत्नी बिंदू कपूर को दिल्ली के प्रतिष्ठित अमृता शेरगिल मार्ग में अपने मालिक अवंता रियल्टी के प्रमोटर गौतम थापर से एक मार्की संपत्ति खरीदने के लिए मामला दर्ज किया था।

सीबीआई ने अपनी प्राथमिकी में आरोप लगाया कि कपूर ने नई दिल्ली में एक प्रमुख स्थान पर संपत्ति के रूप में अवंता रियल्टी लिमिटेड (एआरएल) से संबंधित योग्य बाजार मूल्य से काफी कम कीमत पर संपत्ति खरीदी थी।

इसके अलावा सीबीआई ने यह आरोप भी लगाया है कि कपूर, उनकी पत्नी बिंदू, जो ब्लिस एबोड प्राइवेट लिमिटेड (बीएपीएल) की निदेशक भी हैं, और अवंता समूह की कंपनियों के प्रमोटर थापर ने अवैध रूप से धन प्राप्त करने के उद्देश्य से एक आपराधिक साजिश किया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर