GST को पांच साल पूरे, जून में 56 फीसदी बढ़ा जीएसटी कलेक्शन

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jul 01, 2022 | 15:20 IST

GST collection: अप्रैल 2022 में जीएसटी राजस्व संग्रह पहली बार 1.68 लाख करोड़ रुपये के साथ 1.5 लाख करोड़ को पार कर गया था। जीएसटी ने करदाताओं के रिटर्न दाखिल करने के अनुभव को बेहतर बनाया है।

five years of GST completed GST collection up 56 percent in June
गुड न्यूज: जून में शानदार रहा जीएसटी कलेक्शन  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • ठीक 5 साल पहले यानी 1 जुलाई 2017 को देश में जीएसटी किया गया था।
  • जीएसटी से अप्रत्यक्ष कर की कई जटिलताएं दूर हुई।
  • माल एवं सेवा कर से देश में 17 टैक्स खत्म हो गए थे।

नई दिल्ली। 1 जुलाई 2022 को देश में माल एवं सेवा कर (Goods and Services Tax) लागू हुए पांच साल पूरे हो गए हैं। इस मौके पर अच्छी खबर मिली है। दरअसल सरकार ने जून महीने में जीएसटी से हुए रेवेन्यू कलेक्शन (GST Collection) के आंकड़े जारी कर दिए हैं और आंकड़ों से पता चला है कि पिछले महीने यानी जून 2022 (GST Collection in June 2022) में जून 2021 के मुकाबले जीएसटी कलेक्शन 56 फीसदी बढ़ा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने शुक्रवार को कहा कि जून में माल और सेवा कर राजस्व बढ़कर 1.44 लाख करोड़ रुपये हो गया है।

मई के मुकाबले भी बढ़ी जीएसटी कलेक्शन
इस मौके पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि जीएसटी संग्रह के लिए 1.4 लाख करोड़ रुपये अब मोटे तौर पर एक निचली सीमा बन चुका है। इसके पिछले महीने यानी मई 2022 के मुकाबले भी जून में राजस्व बढ़ा है। मई में जीएसटी राजस्व करीब 1.41 लाख करोड़ रुपये रहा था।

GST: क्या हुआ सस्ता और किसके बढ़े दाम? पढ़ें पूरी लिस्ट

जीएसटी के पांच साल  (5 Years of GST) पूरे होने के अवसर पर वित्त मंत्री ने विज्ञान भवन, नई दिल्ली में जीएसटी दिवस, 2022 ( GST Day) समारोह का उद्घाटन किया। इस अवसर पर वित्त राज्य मंत्री विशिष्ट अतिथि थे। साथ ही, राजस्व सचिव तरुण बजाज, सीबीआईसी अध्यक्ष विवेक जौहरी और जीएसटी सदस्य डीपी नागेंद्र कुमार भी शामिल थे।

GST: खत्म हुई 47वीं बैठक, GoM की चार सिफारिशों पर हुई चर्चा

इस दौरान वित्त मंत्री ने कहा कि आप में से हर एक को उन करदाताओं से प्रेरणा लेनी चाहिए जो कह रहे हैं कि आपने बहुत अच्छी कराधान प्रणाली दी है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर