Financial tips : अपने त्योहारी खर्च पर ऐसे करें ज्यादा-से-ज्यादा बचत

स्पेशल बजट तैयार करने से त्योहारों के दौरान अपनी खर्च सीमा का अनुमान लगाने में मदद मिल सकती है। ऐसे करें ज्यादा-से-ज्यादा बचत। 

Financial tips : Save as much as you can on your festive expenses
त्योहारी खर्च पर अधिक बचाने के तरीके (तस्वीर-Pixabay) 

त्योहारों के दौरान आम तौर पर लोगों का खर्च बढ़ जाता है क्योंकि इस दौरान लोगों को नए कपड़ों, उपहारों और इलेक्ट्रॉनिक सामानों से लेकर फर्नीचर, ऑटोमोबाइल्स और घर के मरम्मत इत्यादि पर खर्च करना पड़ता है। लेकिन, इस बार कोविड-19 वैश्विक-महामारी के कारण कुछ लोग अपने फाइनेंसियल फ्यूचर को लेकर अनिश्चित हैं जिससे इस बार उन्हें पिछले साल की तरह खर्च करने में कठिनाई हो सकती है। इसलिए, आगामी त्योहारी मौसम के दौरान अपने खर्च को बेहतर तरीके से मैनेज करने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ उपाय बताए गए हैं।

त्योहारी खर्च के लिए एक स्पेशल बजट बनाएं

एक स्पेशल बजट तैयार करने से त्योहारों के दौरान अपनी खर्च सीमा का अनुमान लगाने में मदद मिल सकती है। अपने सभी खर्च जैसे कपड़े, उपकरण, उपहार, घर की सजावट, इत्यादि खर्च को उनकी प्राथमिकता के अनुसार सूचीबद्ध करें। यदि आपका बजट, इन सभी खर्च के लिए काफी नहीं है तो कुछ कम जरूरी खर्च को सूची से निकाल दें। अपने बजट के अनुसार ही अपने खर्च की प्लानिंग करें, जैसे, यदि आप एक अल्ट्रा हाई डेफिनिशन TV या स्मार्टफोन खरीदना चाहते हैं तो अपने बजट में फिट बैठने वाले मॉडल और उस पर मिलने वाले डिस्काउंट के बारे में पता करें। अपने पसंदीदा खर्च पर ज्यादा-से-ज्यादा बचत करने की कोशिश करें ताकि आप अपनी खर्च सीमा के भीतर अपने कम जरूरी खर्च को भी पूरा कर सकें। इसके अलावा, यह सब, अंतिम समय में नहीं करना चाहिए। आपको पहले से ही एक स्पेशल फंड बनाकर रखना चाहिए और इस फंड को बनाने के लिए सेविंग्स या इन्वेस्टमेंट रिटर्न्स की मदद लेनी चाहिए ताकि त्योहारों के दौरान पैसे की चिंता न रहे।

क्रेडिट और डेबिट कार्ड्स की मदद से अपने त्योहारी खर्च का वैल्यू बढ़ाएं

त्योहारों के दौरान अधिकांश रिटेल स्टोर्स और ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर शानदार शॉपिंग डील्स भी मिलते हैं। अब जबकि आपने अपने त्योहारी खर्च की प्लानिंग पहले से कर रखी है तो अब आप उन पर ज्यादा-से-ज्यादा पैसे बचाने के तरीके ढूंढ सकते हैं। कई ई-कॉमर्स वेबसाइटें, बिग शॉपिंग फेस्टिवल्स का आयोजन करती हैं जहां आपको अपने पसंदीदा खर्च पर स्पेशल डिस्काउंट मिल सकता है। इसके अलावा, आपके क्रेडिट या डेबिट कार्ड पर एक्स्ट्रा डिस्काउंट भी मिल सकते हैं। उदाहरण के लिए, आपका 50,000 रुपए वाला पसंदीदा स्मार्टफोन, आपकी पसंदीदा ई-कॉमर्स वेबसाइट द्वारा आयोजित बिग शॉपिंग बोनान्जा के दौरान खरीदारी करने पर 40,000 रुपए में मिल सकता है। इसके अलावा, अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड से खरीदने पर और 5000 रुपए बच सकते हैं, और अपना मौजूदा स्मार्टफोन एक्सचेंज करने पर और 5000 रुपए की बचत हो सकती है। इस तरह आपको वह स्मार्टफोन सिर्फ 30,000 रुपए में मिल सकता है, यानी 40% डिस्काउंट पर। इसलिए, कुछ खास विक्रेताओं, पेमेंट टूल्स और एक्सचेंज के माध्यम से ज्यादा-से-ज्यादा पैसे बचाने के तरीके ढूंढने की कोशिश करें।

यदि आपके मौजूदा क्रेडिट या डेबिट कार्ड पर एक्स्ट्रा डिस्काउंट नहीं मिल रहा है तो मालूम करें कि आप उस खरीदारी के लिए अपने क्रेडिट कार्ड रिवार्ड पॉइंट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं या नहीं। साल भर जमा क्रेडिट कार्ड रिवार्ड पॉइंट्स का इस्तेमाल करके भी काफी पैसे बचाए जा सकते हैं या उन रिवार्ड पॉइंट्स को रेडीम करने पर वह मुफ्त में भी मिल सकती है जिससे उसे खरीदने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।

इसके अलावा, कई क्रेडिट कार्ड्स पर नो-कॉस्ट EMI की सुविधा भी मिलती है जिसकी मदद से आप अपनी बड़ी खरीदारी को किफायती किस्तों में बदल सकते हैं। इसलिए, पता करें कि आपके सुनियोजित त्योहारी खर्च पर यह सुविधा मिल रही है या नहीं। लेकिन, इस EMI के कारण आपके मंथली क्रेडिट कार्ड खर्च बजट पर ज्यादा बोझ नहीं पड़ना चाहिए, और इंटरेस्ट चार्ज और लेट पेमेंट पेनाल्टी से बचने के लिए हर महीने हमेशा इंटरेस्ट-फ्री डेडलाइन के भीतर अपने क्रेडिट कार्ड बिल का पूरा पेमेंट करें।

अंतिम विचार

इस तरह, एक विस्तृत योजना और एक बचत दृष्टिकोण की मदद से आप अपने पसंदीदा त्योहारी खर्च पर काफी बचत कर सकते हैं। यदि आपको लगता है कि आपका बजट, आगामी त्योहारी मौसम के दौरान आपको बहुत ज्यादा मनमौजी खर्च करने की इजाजत नहीं देता है तो आप उनमें से कुछ खर्च को, अपने फाइनेंस को कोविड-19 के झटके से उबरने तक के लिए टाल सकते हैं। अपने त्योहारी खर्च के लिए लोन लेते समय एक क्लियर रीपेमेंट प्लान बनाएं ताकि आपके फाइनेंसियल हेल्थ पर उसका बुरा असर न पड़े। सबसे पहले अपने अतिमहत्वपूर्ण फाइनेंसियल कमिटमेंट्स जैसे घर का किराया, लोन की EMI, किराने का सामान, यूटिलिटी और इंश्योरेंस प्रीमियम को पूरा करने की कोशिश करें, न कि अपने मनमौजी खर्च को। इसलिए, अपने त्योहारी खर्च की प्लानिंग करें और अपनी सेविंग्स को बढ़ाने के लिए स्मार्ट स्ट्रेटेजी इस्तेमाल करें ताकि इस दौरान आपके फाइनेंस पर बुरा असर न पड़े। आप सभी के लिए त्योहारों का मौसम बेहद सुखद हो!

इस लेख के लेखक, BankBazaar.com के CEO आदिल शेट्टी हैं)
(डिस्क्लेमर: यह जानकारी एक्सपर्ट की रिपोर्ट के आधार पर दी जा रही है। बाजार जोखिमों के अधीन होते हैं, इसलिए निवेश के पहले अपने स्तर पर सलाह लें।) ( ये लेख सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से लिखा गया है। इसको निवेश से जुड़ी, वित्तीय या दूसरी सलाह न माना जाए)


 


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर