Diwali Muhurat Trading 2021 date, timing: आज दिवाली की शाम 1 घंटे के लिए खुलेगा बाजार, निवेशकों के लिए है अहम

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 04, 2021 | 08:00 IST

Diwali Muhurat Trading 2021 date, timing: आज 4 नवंबर को दिवाली व 5 नवंबर को दिवाली बलिप्रतिपदा के मौके पर शेयर बाजार बंद रहेगा। लेकिन आज शाम एक घंटे के लिए शेयर बाजार में विशेष मुहूर्त कारोबार होगा।

Diwali Muhurat Trading 2021 date, timing
Diwali Muhurat Trading 2021 date, timing  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • आज दिवाली के साथ ही संवत 2078 (Samvat 2078) शुरू हो गया है।
  • इस दिन एक खास मुहूर्त में शेयर बाजार खोला जाता है और कारोबारी स्पेशल शेयर ट्रेडिंग करते हैं।
  • आज दिवाली के दिन शेयर बाजार शाम 6:15 से 7:15 बजे तक खुलेगा।

Diwali Muhurat Trading 2021 date, timing: अगर आप शेयर बाजार (Share Market) में निवेश करना चाहते हैं, तो आज दिवाली (Diwali 2021) के शुभ अवसर पर इसकी शुरुआत कर सकते हैं। हर साल दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading) का आयोजन किया जाता है। दिवाली के दिन वैसे तो शेयर बाजार बंद होता है, लेकिन शाम को एक घंटे के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग होती है, यानी एक घंटे के लिए बाजार खुलता है। 

कब से कब तक खुलेगा बाजार? (Muhurat Trading Time 2021)
इस साल दिवाली के दिन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पर शाम 6:00 बजे से 6:08 बजे तक प्री-ओपन ट्रेडिंग सेशन होगा। इसके बाद शाम 6:15 से 7:15 बजे तक खुलेगा। इस दौरान निवेशक बाजार में दांव लगा सकेंगे। ब्लॉक डील सेशन शाम 5.45 बजे से शाम 6 बजे तक होगा।

क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग? (What is Muhurat Trading)
भारतीय संस्कृति और परंपरा के मुताबिक, देश के कई हिस्सों में दिवाली के साथ ही नए वित्त वर्ष की शुरुआत होती है। शेयर बाजार में भी दिवाली के दिन नए साल की शुरुआत होती है। इस बार दिवाली के साथ संवत 2078 (Samvat 2078) शुरू हो गया है।  बाजार बंद होने के बाद भी, इस दिन एक खास मुहूर्त में बाजार को खोला जाता है इसलिए इस शुभ मुहूर्त पर शेयर बाजार के कारोबारी स्पेशल शेयर ट्रेडिंग करते हैं।

निवेशकों के लिए क्यों अहम है मुहूर्त ट्रेडिंग? (Significance of Muhurat Trading)
निवेशकों का मानना है कि मुहूर्त ट्रेडिंग करने से पूरे साल फायदा होता है और धन बरसता है। दरअसल इसका चलन बीएसई में साल 1957 और एनएसई में साल 1992 में शुरू हुआ था। ऐसा माना जाता है कि दिवाली के दिन किसी कारोबार की शुरुआत से साल भर धन की कमी नहीं होती। इसे इसलिए भी अहम माना जाता है क्योंकि कई लोग इस खास ट्रेडिंग सेशन के दौरान ही शेयर बाजार में अपना पहला निवेश करते हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर