दिनेश कुमार खारा होंगे एसबीआई के नए चेयरमैन, बैंक बोर्ड ब्यूरो ने की सिफारिश

D K Khara will be new chairman of sbi:देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के चेयरमैन पद के लिए बैंक बोर्ड ब्यूरो ने दिनेश कुमार खारा के नाम की सिफारिश की।

Dinesh Kumar Khara to be new chairman of SBI Bank board bureau recommended
एसबीआई के नए चेयरमैन का चुनाव  |  तस्वीर साभार: IANS

मुख्य बातें

  • दिनेश कुमार खारा होंगे भारतीय स्टेट बैंक के नए चेयरमैन
  • बैंक बोर्ड ने खारा के नाम की सिफारिश की
  • 2017 में दावेदारों में एक थे दिनेश कुमार खारा

 मुंबई। बैंक बोर्ड ब्यूरो ने शुक्रवार को देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के चेयरमैन पद के लिए दिनेश कुमार खारा की सिफारिश की। बोर्ड ने आगे कहा कि सीएस शेट्टी रिजर्वड लिस्ट में होंगे। एसबीआई के मौजूदा चेयरमैन रजनीश कुमार का तीन साल का कार्यकाल 07 अक्टूबर को समाप्त हो रहा है। कुमार को 2017 में तीन साल के लिए नियुक्त किया गया था।कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने पहले अश्विनी भाटिया को एसबीआई का मैनेजिंग डायरेक्टर नियुक्त किया था। भाटिया के अलावा, अरिजीत बसु, सीएस शेट्टी, और दिनेश खारा अन्य तीन एमडी हैं।

चयन प्रक्रिया में बीबीबी की अहम भूमिका
बीबीबी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और वित्त संस्थानों के प्रमुखों की तलाश करने वाला निकाय है। सूत्रों के अनुसार बीबीबी की बैठक के एजेंडा में सात काम शामिल हैं। इसमें एक काम एसबीआई के चेयरमैन पद के आवेदकों का इंटरव्यू भी है।दिलचस्प तथ्य यह है कि खारा 2017 में भी चेयरमैन पद के दावेदारों में से थे। खारा को अगस्त, 2016 में तीन साल के लिए एसबीआई का प्रबंध निदेशक नियुक्त किया गया था। उनके प्रदर्शन की समीक्षा के बाद 2019 में उन्हें दो साल का विस्तार दिया गया।

दिल्ली विश्वविद्यालय से की है पढ़ाई
दिल्ली विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के छात्र रहे खारा एसबीआई के वैश्विक बैंकिंग प्रभाग के प्रमुख हैं। वह बोर्ड स्तर के पद पर हैं और एसबीआई की गैर-बैंकिंग अनुषंगियों के कारोबार को देखते हैं। बैंक के प्रबंध निदेशक पर नियुक्ति से पहले खारा एसबीआई फंड्स् मैनेजमेंट प्राइवेट लि. के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) थे।

खारा ने पीओ से करियर की शुरुआत की थी
खारा 1984 में एसबीआई के साथ परिवीक्षाधीन अधिकारी के रूप में जुड़े थे। नए एसबीआई चेयरमैन के समक्ष एक बड़ी चुनौती होगी, क्योंकि कोविड-19 महामारी की वजह से बैंकिंग क्षेत्र गंभीर संकट के दौर में है। 30 जून, 2020 तक एसबीआई ने कोविड-19 की वजह से होने वाले संभावित नुकसान के लिए 3,000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था।बीबीबी के प्रमुख कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के पूर्व सचिव भानु प्रताप शर्मा हैं। इसके सदस्यों में वित्तीय सेवा विभाग के सचिव, लोक उपक्रम विभाग के सचिव, रिजर्व बैंक के बैंकिंग प्रभाग का कामकाज देखने वाले डिप्टी गवर्नर शामिल हैं। समिति के अस्थायी सदस्यों में क्रेडिट सुइस की पूर्व प्रबंध निदेशक वेदिका भंडारकर, एसबीआई के पूर्व प्रबंध निदेशक पी प्रदीप कुमार और रेटिंग एजेंसी क्रिसिल के संस्थापक प्रबंध निदेशक प्रदीप पी शाह हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर