China Richest Country: दुनिया का सबसे अमीर देश बना चीन, अमेरिका को छोड़ा पीछे, इतनी बढ़ी संपत्ति

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 17, 2021 | 12:08 IST

China Richest Country: अमेरिका को पीछाड़कर अब चीन दुनिया का सबसे अमीर देश बन गया है। 2020 में चीन की संपत्ति बढ़कर 120 लाख करोड़ डॉलर हो गई।

China surpassed United States to become the richest nation in the world
America को पीछे छोड़कर China बना दुनिया का सबसे अमीर देश (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • दो दशकों में दुनिया की संपत्ति तीन गुना बढ़ी है।
  • 2000 में दुनिया की कुल संपत्ति 156 ट्रिलियन डॉलर थी।
  • 2020 में दुनिया की संपत्ति बढ़कर 514 ट्रिलियन खरब डॉलर हो गई, जिसमें चीन का योगदान एक तिहाई है।

China Richest Country: सुपर पावर अमेरिका (America) को पीछे छोड़कर चीन (China) अब दुनिया का सबसे अमीर देश (Richest Country in the World) बन गया है। ब्लूमबर्ग (Bloomberg) के अनुसार, मैनेजमेंट कंसल्टेंट मैकिन्जी एंड कंपनी (Management Consultant McKinsey & Company) की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पिछले 20 सालों में दुनिया की संपत्ति तीन गुना बढ़ी है। साल 2000 में दुनिया की कुल संपत्ति 156 ट्रिलियन डॉलर यानी 156 लाख करोड़ डॉलर थी। लेकिन साल 2020 में यह बढ़कर 514 ट्रिलियन खरब डॉलर हो गई। इसमें चीन का योगदान लगभग एक तिहाई है।

20 सालों में इतनी बढ़ी चीन की संपत्ति
चीन में जबरदस्त आर्थिक विकास (Economic Development) और उसके अर्थव्यवस्था (Economy) में मजबूती के चलते 2020 में चीन की संपत्ति बढ़कर 120 ट्रिलियन डॉलर यानी 120 लाख करोड़ डॉलर हो गई। जबकि साल 2000 में चीन की संपत्ति 7 खरब डॉलर थी। इस तरह चीन अमेरिका को पछाड़कर सबसे अमीर देश बन गया है।

20 सालों में दोगुनी हुई अमेरिका की संपत्ति
अमेरिका की बात करें, तो इस दौरान अमेरिकी की संपत्ति दोगुना बढ़कर 90 ट्रिलियन डॉलर पहुंच गई। रिपोर्ट के मुताबिक, यहां प्रॉपर्टी के दामों में वृद्धि न होने से अमेरिका की संपत्ति चीन के मुकाबले कम रही। इसी वजह से अमेरिका पहले पायदान से खिसक गया है और अब चीन दुनिया का सबसे अमीर देश बन गया है। 

अचल संपत्ति के रूप में है कुल संपत्ति का 68 फीसदी हिस्सा
McKinsey की रिपोर्ट में बताया गया है कि कुल वैश्विक संपत्ति का 68 फीसदी हिस्सा अचल संपत्ति के रूप में मौजूद है। वहीं बाकी की संपत्ति में बुनियादी ढांचा, मशीनरी और उपकरण, पेटेंट्स जैसी चीजें में शामिल हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर