क्या मुकेश अंबानी से भी अमीर हो गए हैं क्रिप्टो निवेशक चांगपेंग झाओ? इतनी है संपत्ति

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jan 14, 2022 | 10:32 IST

Binance CEO Changpeng Zhao: ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के अनुसार गुरुवार को मैकडॉनल्ड्स के एक पूर्व कर्मचारी की संपत्ति मुकेश अंबानी से भी अधिक हो गई थी।

Binance CEO Changpeng Zhao
Binance CEO Changpeng Zhao: क्या मुकेश अंबानी से भी अमीर हो गए हैं क्रिप्टो निवेशक चांगपेंग झाओ? इतनी है संपत्ति  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • 44 वर्षीय चांगपेंग झाओ दुनिया के 15 सबसे अमीर शख्स में शामिल हो गए हैं।
  • चांगपेंग झाओ की बिटकॉइन और अपनी कंपनी के क्रिप्टो बाइनेंस कॉइन में तगड़ी हिस्सेदारी है।
  • झाओ की संपत्ति जैक मा से भी ज्यादा हो गई है।

Binance CEO Changpeng Zhao: गुरुवार को मैकडॉनल्ड्स (McDonald's) के एक पूर्व कर्मचारी ने मुकेश अंबानी से एशिया के सबसे अमीर आदमी (Asia’s richest man) का ताज छीन लिया था। हालांकि आज फिर से मुकेश अंबानी एशिया के सबसे रईस शख्स बन गए हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के अनुसार, मैकडॉनल्ड्स के पूर्व कर्मचारी चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) की संपत्ति गुरुवार को 96.9 अरब डॉलर हो गई थी और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) के मालिक मुकेश अंबानी 96.8 अरब डॉलर के मालिक थे।

आज इतनी दोनों की संपत्ति
लेकिन आज रिलायंस के शेयरों में आए उछाल से मुकेश अंबानी दोबारा एशिया के सबसे रईस शख्स बन गए हैं। खबर लिखने के समय तक ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स (Bloomberg Billionaire Index) के अनुसार उनकी संपत्ति (Mukesh Ambani Networth) अब 97 अरब डॉलर हो गई है। वहीं चांगपेंग झाओ 94.1 अरब डॉलर की संपत्ति (Changpeng Zhao Networth) के मालिक हैं।

पूरी दुनिया में 11वें सबसे रईस शख्स हैं अंबानी 
पूरी दुनिया में मुकेश अंबानी 11वें सबसे रईस शख्स हैं और चांगपेंग झाओ 12वें सबसे अमीर शख्स हैं। इस सूची में पहले स्थान पर (World's Richest Man) टेस्ला के सीईओ एनल मस्क हैं। एनल मस्क की कुल संपत्ति (Elon Musk Networth) 264 अरब डॉलर है। 187 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ जेफ बेजोस (Jeff Bezos) दूसरे स्थान पर हैं।

कौन हैं चांगपेंग झाओ? (Who is Changpeng Zhao)
चांगपेंग झाओ को CZ के नाम से जाना जाता है। उनका जन्म चीन के पूर्वी-मध्य तटीय प्रांत Jiangsu में हुआ था। उनके माता-पिता चीन में शिक्षक थे। जब चांगपेंग झाओ 12 साल के थे तब उनका परिवार कनाडा के Vancouver में चला गया। उन्होंने मैकडॉनल्ड्स में बर्गर परोसने के अलावा गैस स्टेशनों पर रात भर काम किया। उन्होंने Montreal में मैकगिल विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई की। स्नातक की पढ़ाई के बाद उन्होंने टोक्यो में टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज के सबकॉन्ट्रैक्टर के लिए काम किया। 

2005 में वे वापस चीन चले गए, जहां उन्होंने शंघाई में फ्यूजन सिस्टम्स की स्थापना की। फोर्ब्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, फ्यूजन सिस्टम्स ब्रोकर के लिए कुछ सबसे तेज हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग सिस्टम के लिए जाना जाता था। उन्होंने 2013 में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना शुरू किया।

कहां से आई इतनी संपत्ति?
उनके एक पोकर दोस्त दोस्त बॉबी ली ने उन्हें इस अपनी संपत्ति का 10 फीसदी बिटकॉइन (Bitcoin) में निवेश करने की सलाह दी।  बॉबी ली बीटीसी चीन के सीईओ थे। उसके बाद उन्होंने OKCoin के मुख्य टेक्नोलॉजी अधिकारी के रूप में कार्य किया और प्रारंभिक कॉइन ऑफरिंग में 15 मिलियन डॉलर जुटाने के बाद, Binance नामक क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज शुरू करने के लिए 2017 में नौकरी छोड़ दी। ट्रेडिंग वॉल्यूम और फीस के ब्लूमबर्ग विश्लेषण के अनुसार, पिछले साल यानी 2021 में बाइनेंस ने कम से कम 20 बिलियन डॉलर का राजस्व अर्जित किया।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर