बड़ी राहत वाली खबर! कोरोना से मौत होने पर कर्मचारी के परिवार को रिटायरमेंट उम्र तक पूरा वेतन देगी टाटा स्टील

टाटा स्टील ने कोविड-19 से प्रभावित कर्मचारियों के परिवार के सदस्यों के लिए सामाजिक सुरक्षा स्कीम्स की घोषणा की है। मौत होने पर 60 साल तक पूरा वेतन देगा। 

Big relief! On the death from Corona, Tata Steel will give full salary to its employee's family till retirement age
टाटा स्टील 

कोरोना काल में आम आदमी हर तरह से परेशान है। ऐसे में टाटा स्टील ने कर्मचारियों के लिए बड़ी राहत दी है। टाटा स्टील ने कोविड-19 से प्रभावित कर्मचारियों के परिवार के सदस्यों के लिए सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की घोषणा की है। कंपनी ने रविवार को घोषणा की कि इस योजना के तहत, अगर किसी कर्मचारी की कोविड से मौत हो जाती है, तो उसके परिवार को उसका अंतिम वेतन तब तक मिलेगा जब तक कर्मचारी 60 वर्ष का नहीं हो जाता। यानी टाटा स्टील अपने मृत कर्मचारी के रिटायरमेंट उम्र तक का पूरा वेतन उसके परिवार को देगी।

कंपनी सोशल मीडिया पर बयान जारी करते हुए कहा कि टाटा स्टील की सर्वश्रेष्ठ सामाजिक सुरक्षा योजनाएं उनके परिवारों के लिए एक सम्मानजनक जीवन स्तर सुनिश्चित करने में मदद करेंगी, जिससे परिवार को मृतक कर्मचारी/नामित व्यक्ति की 60 वर्ष की आयु तक का वेतन मिलेगा।  साथ की बयान में कहा गया है कि वे चिकित्सा लाभ और आवास सुविधाओं का भी लाभ उठा सकेंगे।

इसके अलावा अगर कोई फ्रंटलाइन कर्मचारी काम के दौरान संक्रमित हो जाता है और उसकी मौत हो जाती है, तो कंपनी उसके बच्चों के स्नातक होने तक उनकी पढ़ाई का सारा खर्च वहन करेगी। 

टाटा स्टील उन कई स्टील निर्माताओं में से है, जिन्होंने कोरोनो वायरस महामारी के बीच ऑक्सीजन उत्पादन में तेजी लाने के केंद्र के आह्वान का जवाब दिया। इस्पात मंत्रालय द्वारा जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, देश के विभिन्न हिस्सों में इस्पात संयंत्रों द्वारा आपूर्ति की जाने वाली 4,435 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन में से, स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने 1,485 मीट्रिक टन, राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड ने 158 मीट्रिक टन और टाटा स्टील ने 1,154 मीट्रिक टन की आपूर्ति की।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर