Air Travel Costlier: आज से हवाई सफर हुआ महंगा, आखिर क्या है खास वजह

बिजनेस
ललित राय
Updated Apr 01, 2021 | 10:02 IST

वायु सुरक्षा शुल्क में बढ़ोतरी की वजह से हवाई सफर महंगा हो गया है। यह बात दीगर है कि कोविड 19 की वजह से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें सामान्य से कम क्षमता पर संचालित की जा रही हैं।

Air Travel Costlier: आज से हवाई सफर हुआ महंगा, आखिर क्या है खास वजह
एएसएफ में इजाफे के बाद हवाई सफर महंगा 

मुख्य बातें

  • वायु सुरक्षा शुल्क में बढ़ोतरी की वजह से हवाई सफर महंगा
  • घरेलू उड़ान के लिए शुल्क में 40 रुपये की बढ़ोतरी, अंतरराष्ट्रीय उड़ान के लिए 114.38 रुपये का इजाफा
  • कोविड 19 की वजह से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन सामान्य क्षमता से कम

एक अप्रैल से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय उड़ान के लिए ज्यादा कीमत चुकानी पड़गी। दरअसल 1 अप्रैल से वायु सुरक्षा शुल्क (ASF) लागू किया गया है। इससे पहले नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने 1 अप्रैल से वायु सुरक्षा शुल्क (ASF) में बढ़ोतरी का फैसला किया था। घरेलू हवाई यात्रियों के लिए ASF में बढ़ोतरी 40 रुपये है, जबकि अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों के लिए यह 114.38 रुपये है।

हवाई अड्डों की सुरक्षा के लिए एएसएफ की व्यवस्था
एएसएफ को घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों यात्रियों से देश भर के हवाई अड्डों में सुरक्षा व्यवस्था के लिए एकत्र किया जाता है और यह टिकट मूल्य निर्धारण में एक घटक है। घरेलू यात्रियों के लिए एविएशन सिक्योरिटी शुल्क प्रति एम्बार्किंग यात्री को 200 रुपये की दर से लगाया जाएगा। अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए एविएशन सिक्योरिटी शुल्क यूएस $ 12 या भारतीय रुपये के बराबर यात्रियों को लगाया जाएगा। नई दरें प्रभावी होंगी। 1 अप्रैल 2021 को या उसके बाद जारी किए गए टिकट, “DGCA ने पहले ही अपने आदेश में कहा था।

कुछ यात्रियों को एएसएफ में छूट
हालांकि, कुछ यात्रियों को एएसएफ का भुगतान करने से छूट दी गई है। इन यात्रियों में दो वर्ष से कम आयु के बच्चे, राजनयिक पासपोर्ट धारक, ड्यूटी पर एयरलाइन चालक दल, भारतीय वायु सेना द्वारा संचालित विमान पर आधिकारिक ड्यूटी पर जाने वाले लोग, संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के ड्यूटी पर जाने वाले लोग, पारगमन में यात्रियों, स्थानांतरण, हवाई अड्डे के कारण निर्वासन अनैच्छिक पुनर्मूल्यांकन के लिए।इससे पहले ASF को सितंबर 2020 में घरेलू यात्रियों के लिए 10 रुपये और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए 0.35 डॉलर की बढ़ोतरी की गई थी।

यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि सामान्य अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा अभी तक शुरू नहीं हुई है, जबकि घरेलू हवाई यात्रा के लिए क्षमता से  80% कम है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पिछले महीने कहा था कि कोविड 19 की दूसरी लहर ने एयरलाइंस को 100% क्षमता पर परिचालन करने में देरी कर दी है जो कि 1 अप्रैल से ग्रीष्मकालीन अनुसूची की शुरुआत से होने की योजना थी। टाइम्स नेटवर्क इंडिया इकोनॉमिक कॉन्क्लेव 2021 में  उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि घरेलू संचालन पर पर्दा डालने के लिए कोई सवाल नहीं है।  

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर