Aadhaar Card Verification: अब ऑफलाइन भी करा सकेंगे वेरिफिकेशन, जानें क्या है नियम

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 10, 2021 | 10:03 IST

Aadhaar Card Verification: आधार (Authentication and Offline Verification) रेग्युलेशन-2021 को 8 नवंबर को अधिसूचित किया गया था। इसे मंगलवार को आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया।

offline Aadhaar Card Verification
Aadhaar Card Verification: अब ऑफलाइन भी करा सकेंगे वेरिफिकेशन (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • सरकार ने आधार कार्ड (Aadhaar Card) से जुड़े नए नियम जारी किए हैं।
  • अब आप UIDAI द्वारा तैयार किए गए डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित दस्तावेज के जरिए अपने आधार का वेरिफिकेशन ऑफलाइन करा सकेंगे।
  • आधार प्रमाणीकरण और ऑफलाइन सत्यापन विनियम 2021 को 8 नवंबर को अधिसूचित किया गया था।

Aadhaar Card Verification: अब आप भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा बनाए गए डिजिटली हस्ताक्षरित दस्तावेज को साझा करके ऑफलाइन आधार सत्यापन (Aadhaar verification offline) करवा सकते हैं। सरकार द्वारा जारी नए नियमों के अनुसार, इस दस्तावेज में आपको दिए गए आधार नंबर के अंतिम चार अंक होंगे।

आधार (Authentication and Offline Verification) विनियम 2021 को 8 नवंबर को अधिसूचित किया गया और मंगलवार को आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया गया, जिसमें ई-केवाईसी (eKYC) प्रक्रिया के लिए आधार के ऑफलाइन सत्यापन (Aadhaar Verification) को सक्षम करने के लिए एक विस्तृत प्रक्रिया निर्धारित की गई है।

यूआईडीएआई ने ऑनलाइन सत्यापन में मौजूदा तंत्र के अलावा समय-समय पर प्राधिकरण द्वारा शुरू किए गए क्यूआर कोड सत्यापन (QR Code Verification), आधार पेपरलेस ऑफलाइन ई-केवाईसी सत्यापन (Aadhaar Paperless offline e-KYC verification), ई-आधार सत्यापन, ऑफलाइन पेपर-आधारित सत्यापन और अन्य प्रकार के ऑफलाइन सत्यापन को जोड़ा है।

इस नियम से आपको डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित दस्तावेज को साझा करने का विकल्प मिलेगा, आधार पेपरलेस ऑफलाइन ई-केवाईसी, यूआईडीएआई द्वारा उत्पन्न आधार संख्या के अंतिम 4 अंक, जनसांख्यिकीय डेटा जैसे नाम, पता, लिंग और जन्म तिथि, और तस्वीर ई-केवाईसी के लिए अधिकृत एजेंसी के साथ आधार नंबर धारक आदि का।

इन तरीकों से भी कर सकते हैं आधार वेरिफिकेशन
ऑफलाइन विकल्पों के साथ सत्यापन के अन्य तरीके जैसे वन-टाइम पिन और बायोमेट्रिक-आधारित प्रमाणीकरण भी जारी रहेंगे। आधार डेटा को सत्यापित करने के लिए अधिकृत एजेंसियां ​​कोई भी उपयुक्त तरीका चुन सकती हैं। सुरक्षा बढ़ाने के लिए कई कारक प्रमाणीकरण का विकल्प भी चुना जा सकता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर