7th Pay Commission: 28% DA बढ़ोतरी के बाद फिर बढ़ेगी केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी? ऐसे करें वेतन वृद्धि गणना

बिजनेस
किशोर जोशी
Updated Aug 12, 2021 | 13:18 IST

7th Pay Commission: जून 2021 का महंगाई भत्ता अभी तय नहीं हुआ है, हालांकि एआईसीपीआई के आंकड़ों से साफ है कि 3% डीए और बढ़ेगा।

7th Pay Commission, salary of Central employees' to increase again after 28 percent DA hike
DA बढ़ोतरी के बाद फिर बढ़ेगा केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन? 

मुख्य बातें

  • केंद्र सरकार के कर्मियों की फिर बढ़ेगी सैलरी, जल्द मिलेगी खुशखबरी
  • 28 फीसदी के स्थान पर 31 फीसदी हो जाएगा केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता
  • इस संबंध में जल्द घोषणा कर सकती है केंद्र सरकार

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 1 जुलाई से 28% महंगाई भत्ता (डीए) मिलना शुरू हो गया है, हालांकि, अभी जून 2021 के डीए का इंतजार है। सरकार जल्द ही जून महीने के लिए महंगाई भत्ता जारी कर सकती है और अगर ऐसा होता है तो कुल डीए 28% से बढ़कर 31% हो जाएगा, जिसका मतलब है कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों का वेतन फिर से बढ़ जाएगा।

जून का 3% महंगाई भत्ता अभी बढ़ना बाकी

जून 2021 का महंगाई भत्ता अभी तय नहीं हुआ है, हालांकि जनवरी 2021 से मई 2021 तक के एआईसीपीआई के आंकड़ों से साफ है कि डीए में 3 फीसदी और इजाफा होगा।  गौरतलब है कि जनवरी 2020 में डीए में 4% की वृद्धि हुई थी, जून 2020 में 3% की वृद्धि हुई थी, और बाद में जनवरी 2021 में फिर से 4% की वृद्धि हुई। इस तरह DA कुल 28% तक पहुँच गया लेकिन अब जून में 3% की बढ़ोतरी के साथ DA 31 फीसदी तक पहुंच जाएगा।

मूल वेतन पर वेतन वृद्धि की पूरी गणना देखें

डीएनए की खबर के मुताबिक, सातवें वेतन आयोग के मैट्रिक्स के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों के लेवल-1 की सैलरी रेंज 18,000 रुपये से लेकर 56,900 रुपये तक है। यानी न्यूनतम मूल वेतन 18,000 रुपये है। अगर हम अपनी गणना न्यूनतम वेतन के आधार पर करें तो सितंबर में इतनी ही बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। 

28% महंगाई भत्ते की गणना के मुताबिक, 18,000 रुपये के मूल वेतन पर कुल वार्षिक महंगाई भत्ता 60,480 रुपये होगा। लेकिन अंतर की बात करें तो सैलरी में सालाना 23,760 रुपये की बढ़ोतरी होगी।

  1. कर्मचारी का मूल वेतन 18, 000 रुपये
  2. नया महंगाई भत्ता (28%) 5040 रुपये/ माह
  3. पुराना महंगाई भत्ता (17%) 3060 रुपये/माह
  4. अंतर की गणना करें: 5040-3060 = 1980 रुपये/माह
  5. वार्षिक वेतन में वृद्धि 1980X12 = 23760 रुपये

31% महंगाई भत्ते की गणना

अब अगर जून में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई तो कुल डीए 31 फीसदी हो जाएगा। अब 18,000 रुपये के मूल वेतन पर कुल वार्षिक महंगाई भत्ता 66,960 रुपये होगा। लेकिन अंतर की बात करें तो वेतन में सालाना बढ़ोतरी 30,240 रुपये होगी। वो किस तरह होगी, उसकी जानकारी हम आपको दे रहे है जो इस प्रकार है।

  1. कर्मचारी का मूल वेतन रु. 18,000
  2. नया महंगाई भत्ता (31%) 5580 रुपये/माह
  3. पुराना महंगाई भत्ता (17%) 3060 रुपये/माह
  4. अंतर की गणना करें: 5580-3060 = 2520 रुपये/माह
  5. वार्षिक वेतन में वृद्धि 2520X12 = 30,240 रुपये

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने जनवरी 2020 में महंगाई भत्ता 4 फीसदी बढ़ाया था और उसके बाद जून 2020 में तीन फीसदी महंगाई भत्ते का इजाफा किया गया था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर