कारों मे छूट गये बच्चों को डिटेक्ट करने के लिए टेस्ला ने सेंशर डिवाइस लगाने की मांगी इजाजत

टेस्ला इंक ने फेडरल कम्यूनिकेशंस कमीशन से शॉर्ट-रेंज इंटरएक्टिव मोशन-सेंसिंग डिवाइस को बाज़ार में लाने के लिए मंजूरी मांगी, इसकी मदद से कार में छूटे बच्चों के साथ साथ गाड़ियों की चोरी पहर लगाम लगेगा।

टेस्ला ने कारों मे छूट गये बच्चों की पहचान के लिए सेंशर डिवाइस लगाने की मांगी इजाजत
टेस्ला इंक की एफसीसी से बड़ी मांग 

मुख्य बातें

  • गर्म कारों में सेंशर डिवाइस लगाने के लिए टेस्ला ने मांगी इजाजत
  • 2018-2019 में 54 फीसद बच्चे गर्म कारों में छूट गये
  • सेंशर डिवाइस छोटी छोटी शारीरिक हरकतों को कर लेगा डिटेक्ट

टेस्ला इंक ने फेडरल कम्युनिकेशंस कमिशन (FCC) से शॉर्ट-रेंज इंटरएक्टिव मोशन-सेंसिंग डिवाइस को बाज़ार में लाने के लिए मंजूरी मांगी, जो बच्चों को गर्म कारों में  पीछे रहने से रोकने और चोरी-रोकथाम प्रणालियों को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। कैलिफोर्निया ऑटोमेकर बिना लाइसेंस वाले मिलीमीटर-वेव सेंसर का उपयोग करने की अनुमति चाहता है जो मौजूदा नियमों के तहत अनुमति के मुकाबले उच्च शक्ति स्तर पर काम करेगा।

कारों में सेंशर डिवाइस लगाने की टेस्ला ने मांगी इजाजत
टेस्ला की डिवाइस एक रडार फ्रंट-एंड यूनिट द्वारा संचालित चार प्रेषित और तीन प्राप्त एंटेना का उपयोग करेगी। टेस्ला का कहना है कि मिलीमीटर तरंग रडार तकनीक में कैमरा-आधारित या इन-सीट रहने वाले डिटेक्शन सिस्टम जैसे अन्य संवेदी प्रणालियों पर फायदे हैं। रडार-आधारित प्रणाली के जरिए उन बच्चों के बारे में भी पता लगाया जा सकता है जो किसी कंबल में भी ढंके हों। 

छोटी छोटी शारीरिक हरकतों को डिटेक्ट कर लेगा डिवाइस
टेस्ला का कहना है कि वो जिस तकनीक का इस्तेमाल करना चाहता है वो सीट पर किसी वस्तु या बच्चे की पहचान कर लेगा। यही नहीं अनावयस्यक रूप से फाल्स अलार्म से भी निजात मिलेगा। वो मशीन साँस लेने के पैटर्न और हृदय की दर जैसी छोटी छोटी शारीरिक हरकतों की पहचान कर लेगा जो सामान्य तौर पर किसी ैकमरे या सीट सेंसर द्वारा कब्जा नहीं किया जा सकता है।" 

टेस्ला ने अपने प्रस्ताव पर सार्वजनिक कमेंट की मांग की
दुर्घटना में एयरबैग की तैनाती का अनुकूलन करने के लिए शरीर के आकार का आकलन कर सकता है, इस पर निर्भर करता है कि एक वयस्क या बच्चा बैठा है, जो यह कहता है कि मौजूदा वजन-आधारित, इन-सीट सेंसर सिस्टम की तुलना में अधिक प्रभावी होगा।यह भी अधिक सटीक रूप से निर्धारित करेगा कि सीट बेल्ट रिमाइंडर कब  लगाया जाए। एफसीसी, सेप्टेल 21 के माध्यम से टेस्ला के अनुरोध पर सार्वजनिक टिप्पणी मांग रहा है।

2018-2019 में गर्म कारों में 54 फीसद बच्चे छूट गए
वैलियो नॉर्थ अमेरिका ने  अपनी इन-व्हीकल सेफ्टी से जुड़े मॉनिटरिंग डिवाइस के लिए FCC में मार्च में एक रिक्वेस्ट सबमिट की, जो कारों में बच्चों का पता लगाएगा। अनुरोध लंबित है।राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात सुरक्षा प्रशासन का कहना है कि 2018 और 2019 दोनों में गर्म कारों में पीछे रहने से 50 से अधिक बच्चों की मौत हो गई। उन घटनाओं में से 54% इसलिए हुई क्योंकि कोई बच्चा भूल गया था।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर