पहले निकला धुआं, फिर जलकर खाक में बदल गई जगुआर की ये लग्जरी इलेक्ट्रिक कार

ऑटो
अंशुमन साकल्ले
अंशुमन साकल्ले | Senior Special Correspondent
Updated Aug 02, 2022 | 19:54 IST

इलेक्ट्रिक वाहनों में बढ़ती आग की घटनाओं में एक और घटना शामिल हो गई है. यूएस के फ्लोरिडा में Jaguar की लग्जरी इलेक्ट्रिक कार I-Pace में उस समय आग लग गई जब चार्जिंग के बाद इसे चलाकर दोबारा गैराज में खड़ा किया गया.

Jaguar I-Pace Caught Fire In Florida
2019 मॉडल ये जगुआर आई-पेस कथित रूप से गैराज में खड़ी थी और चार्ज हो रही थी (Image Credit: Electrek) 
मुख्य बातें
  • जगुआर की लग्जरी इलेक्ट्रिक कार हुई खाक
  • चार्जिंग के बाद कुछ देर चली, फिर जल गई
  • अगला हिस्सा सुरक्षित, पिछला पूरी तरह खाक

Jaguar I-Pace Luxury Electric Car Caught Fire: दुनियाभर में जहां एक तरफ इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या में बढ़ोतरी एक अच्छा संकेत माना जा रहा है, वहीं इनमें आग लगने की घटनाएं भी बढ़ रही हैं जो सबके लिए चिंता का विषय बना हुआ है. हाल ही में एक और घटना यूएस के फ्लोरिडा से सामने आई है जहां चार्जिंग के दौरान एक जगुआर आई-पेस ने आग पकड़ी और कार जलकर खाक हो गई. 2019 मॉडल ये जगुआर आई-पेस कथित रूप से गैराज में खड़ी थी और चार्ज हो रही थी. दिलचस्प बात ये है कि इस इलेक्ट्रिक कार के अगले हिस्से में आग का कोई असर नहीं हुआ, वहीं इसका केबिन पूरी तरह जल गया है. 

जलकर खाक हो गई जगुआर आई-पेस 

इस लग्जरी इलेक्ट्रिक कार के मालिक गोन्जालो सालाजार ने इलेक्ट्रेक को बताया कि उन्होंने 16 जून को कार चार्ज पर लगाई थी और 17 जून को उन्होंने इसे अनप्लग किया. उन्होंने कार चलाई और दोबारा गैराज में पार्क की, इसके तुरंत बाद उन्हें गैराज से कुछ फूटने की आवाज आई. जब वो इसकी जांच करने गए तो देखा कि कार में से भारी धुंआ निकल रहा था, उन्होंने घर को सुरक्षित करने के लिए कार तत्काल गैराज से बाहर निकाल दी. कुछ ही मिनट में ये धुंआ आग की लपटों में बदल गया और देखते ही देखते ये कार खाक में बदल गई. 

ये भी पढ़ें : Mahindra 15 अगस्त को पेश करने वाली है 5 नई इलेक्ट्रिक कारें, सितंबर में लॉन्च होगी XUV400!

पहले भी लग चुकी इस ईवी में आग 

रिपोर्ट में ये भी सामने आया है कि इस आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड को काफी मशक्कत करनी पड़ी. बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब जगुआर आई-पेस में आग लगी है, इससे पहले 3 और जगुआर आई-पेस इसी स्थिति में आग पकड़ चुकी हैं. जगुआर इलेक्ट्रिक कारों में एलजी केम बैटरी सेल्स लगाई जाती हैं जो शेवरोले बोल्ट ईवी में भी इस्तेमाल होती हैं. ऐसे में शेवरोल की तर्ज पर जगुआर भी इन कारों को रिकॉल कर सकती है. बता दें कि ह्यून्दे कोना ईवी में भी इन्हीं बैटरी सेल का इस्तेमाल किया जाता है. 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर