नए फीचर के साथ डैटसन ने लॉन्च की रेडी गो, 3 लाख रुपए से कम है कीमत

ऑटो
Updated Jul 18, 2019 | 17:19 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

डैटसन ने अपनी एंट्री लेवल कार रेडी गो को अपडेट के साथ जारी कर दिया है। इस कार में अब आपको नए सेफ्टी फीचर मिलेंगे, जो कार को पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित बनाते हैं। जानिए इसकी कीमत।

Datsun Redi Go
डैटसन ने लॉन्च की नए सिक्योरिटी फीचर के साथ रेडी गो 

मुख्य बातें

  • डैटसन ने रेडी गो को सेफ्टी अपडेट के साथ लॉन्च किया है।
  • नई रेडी गो की कीमत बढ़ गई है, लेकिन अभी भी इसकी कीमत 3 लाख रुपए से कम है।
  • नई कार में साइड एयरबैग, रियरपार्किंग सेंसर, स्पीड अलर्ट सिस्टम और सीट बेल्ट रिमाइंडर फीचर जुड़ गए हैं।

नई दिल्ली: जापानी कार निर्माता कंपनी डैटसन ने अपनी एंट्री लेवल कार रेडी गो को अपडेट किया है। कंपनी ने एआईएस-145 सेफ्टी नॉर्म्स से कार के सभी वेरिएंट को अपडेट कर दिया है। बजट हैचबैक इस कार के सभी वेरिएंट को अपडेट कर दिया गया है, जिसमें ड्राइवर साइड एयरबैग, रियरपार्किंग सेंसर, स्पीड अलर्ट सिस्टम और सीट बेल्ट रिमाइंडर फीचर जुड़ गया है। इससे पहले डैटसन ने रेडी गो को एबीएस और ईबीडी फीचर के साथ मार्च में अपडेट किया था। 

फीचर बढ़ने के साथ ही डैटसन ने इस कार की कीमत भी बढ़ा दी है। डैटसन रेडी गो की कीमत में 12 हजार रुपए की बढ़ोतरी की गई है, जबकि ऑनगोइंग मॉडल की कीमत से मुकाबले टॉप स्पेक वेरिएंट की कीमत 4000 रुपए ही ज्यादा है। रेडी गो रेंज की शुरुआत अब 2.8 लाख रुपए से होती है और ये कार के टॉप वेरिएंट की कीमत 4.37 लाख रुपए (एक्स शोरूम) है। 

अतिरिक्त सेफ्टी किट के साथ डैटसन ने रेडी गो लाइनअप में बदलाव भी किया है। अब तक मध्य फीचर के साथ आने वाली रेडी गो टी(ओ) वेरिएंट को कंपनी ने अपडेट के साथ हटा दिया है। अन्य मैकेनिजम के मामले में रेडी गो में कोई बदलाव नहीं हुआ है। 

डैटसन रेडी गो में आपको वहीं पुराना 0.8 लीटर का पेट्रोल मोटर मिलेगा, जो 54 हॉर्सपावर की ताकत प्रदान करता है। इस इंजन के साथ कंपनी 5 स्पीड यूनिट का मैन्युअल गियर बॉक्स प्रदान करती है। वहीं कार में 68 हॉर्सपावर का 1.0 लीटर का पेट्रोल इंजन भी मिलेगा, जो 5 स्पीड यूनिट के मैन्युअल और ऑटोमेटिक गियरबॉक्स विकल्प के साथ आता है। 

इस सेफ्टी अपडेट का मतलब है कि अगले सेफ्टी नॉर्म्स तक रेडी गो का प्रोडक्शन चलता रहेगा। 1अक्टूबर 2019 से शुरू लागू होने वाले नियमों के मुताबिक सभी कार को क्रैश टेस्ट पास करना होगा। उम्मीद है कि कार का कोई फेसलिफ्ट वर्जन उस वक्त तक देखने को मिल जाए। इस साल अक्टूबर में क्रैश नॉर्म्स लागू होने के बाद अगस्त 2020 में पैडिस्टेरियन सेफ्टी नॉर्म्स लागू होंगे। देखते हैं इस अपडेट से डैटसन को अपनी सेल बढ़ाने में मदद मिलती है या नहीं। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर