Electric Vehicle: इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनियां तेलंगाना में निवेश की इच्छुक

ऑटो
आईएएनएस
Updated Oct 31, 2020 | 14:52 IST

electric vehicle companies investment:तेलंगाना में निवेश के लिए कुछ इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनियां आगे आई हैं और वो राज्य में  2,500 करोड़ रुपये से अधिक का इन्वेस्टमेंट करना चाह रही हैं।

electric vehicle
सबसे बड़ा निवेश मित्रा एनर्जी द्वारा किया जाना प्रस्तावित है 

हैदराबाद: इलेक्ट्रिक मोबिलिटी स्पेस में छह कंपनियां 2,500 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश के साथ तेलंगाना में अपनी सुविधाएं स्थापित करेंगी। मित्रा एनर्जी, ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक और ईटीओ मोटर्स सहित इन फर्मों ने शुक्रवार को राज्य सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।सबसे बड़ा निवेश मित्रा एनर्जी द्वारा किया जाना प्रस्तावित है। यह 2,000 करोड़ रुपये के निवेश के साथ एक इलेक्ट्रिक बस निर्माण इकाई स्थापित करने की योजना बना रहा है।

इससे लगभग 7,000 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर मिलने की उम्मीद है।ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड, 300 करोड़ रुपये के निवेश के साथ एक इलेक्ट्रिक बस निर्माण इकाई स्थापित करेगी।फर्म, जो विभिन्न राज्य सड़क परिवहन निगमों को इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति करती है, इस संयंत्र के माध्यम से 3,500 व्यक्तियों के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर प्रदान करेगी।

एक अन्य समझौता ज्ञापन के तहत, ईटीओ मोटर्स 150 करोड़ रुपये के निवेश के साथ एक इलेक्ट्रिक वाहन विनिर्माण इकाई स्थापित करेगी।यह फर्म लगभग 1,500 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर प्रदान करेगी।

तेलंगाना इलेक्ट्रिक व्हिकल समिट के मौके पर एक समारोह में इन ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए, जहां उद्योग मंत्री के.टी. रामाराव ने तेलंगाना इलेक्ट्रिक व्हिकल एंड स्टोरेज पॉलिसी 2020-2030 का भी अनावरण किया।प्योर ईवी द्वारा भी एक मैन्युफैक्चरिंग बेस स्थापित करने की योजना है।

इट्रियो, जिसने इलेक्ट्रिक दोपहिया और तिपहिया वाहन लॉन्च किए हैं, ने एक विनिर्माण सुविधा स्थापित करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एआरएआई), पुणे ने तेलंगाना में इलेक्ट्रिक वाहन सेगमेंट के लिए एक टेस्ट फैसिलिटी स्थापित करने का प्रस्ताव दिया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर