Agra Ritika Murder Case: आगरा में फैशन ब्लॉगर रितिका की हत्या का मामला, अब परिवार ने जताया अपनी जान का खतरा

Agra Ritika Murder Case: आगरा में फैशन ब्लॉगर रितिका की हत्या के बाद अब परिवार ने जान का खतरा जताया है। परिजनों ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल भी उठाए हैं।

Agra Ritika Murder Case
आगरा में रितिका की हत्या का मामला  |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • आगरा में रितिका की हत्या का मामला
  • अब रितिका के परिवार ने जताया जान का खतरा
  • परिजनों ने पुलिस की कार्रवाई पर उठाए सवाल

Agra Ritika Murder Case: उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में फैशन ब्लॉगर रितिका की हत्या के बाद परिजनों ने भी अपनी जान का खतरा जताया है। यही नहीं उन्होंने पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल उठाए हैं। परिजनों का कहना है कि रितिका की हत्या के मामले में अभी कई आरोपी फरार हैं, जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया। पीड़ित परिवार की मांग है कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। उधर, पुलिस आरोपी की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दे रही है। पुलिस का कहना है कि बाकी आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

बता दें कि पिछले सप्ताह ताजगंज के ओमश्री प्लेटटिनम अपार्टमेंट में चौथी मंजिल से फेंक कर फैशन ब्लॉगर रितिका की हत्या कर दी गई थी। मृतक महिला के पति आकाश गौतम ने ही भाड़े पर युवकों और महिलाओं को लाकर वारदात को अंजाम दिया था।

रितिका के भाई उत्कर्ष ने पुलिस की कार्रवाई पर उठाए सवाल

फैशन ब्लॉगर रितिका की हत्या के बाद पूरा परिवार सदमे में है। वहीं रितिका की मां-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। रितिका के भाई उत्कर्ष का कहना है कि अभी इस मामले में दो आरोपी फरार हैं, जिन्हें पुलिस पकड़ नहीं सकी। उत्कर्ष ने बताया कि पुलिस ने रितिका के दोस्त विपुल की पत्नी समेत अन्य लोगों पर कार्रवाई नहीं की है। जबकि रितिका ने पूर्व में उनके खिलाफ शिकायत की थी। परिजनों का कहना है कि आज वह पुलिस अधिकारियों से मिलेंगे और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे। 

यह थी वारदात

रितिका के भाई उत्कर्ष ने बताया कि 24 जून को रितिका के फ्लैट पर सुबह 10:30 बजे आकाश गौतम और उसके साथी गए थे। इससे पहले अपार्टमेंट के गेट पर चौकीदार ने उनकी एंट्री की थी। वहीं करीब 11:30 बजे एक महिला रितिका के फ्लैट पर आई। उसकी एंट्री भी रजिस्टर में दर्ज है। उत्कर्ष का कहना है कि इसके बाद सभी ने मिलकर रितिका की हत्या कर डाली और उसे चौथी मंजिल से नीचे फेंक दिया। 

रितिका ने परिवार के लिए लिखा था पत्र

उत्कर्ष ने बताया कि रितिका के फ्लैट से एक पत्र मिला है। यह पत्र 10 जून का बताया गया है, जिसमें लिखा है बचपन से अब तक बहुत दुख और संघर्ष देखे हैं। जब बड़ी हुई तो दुख ने हर तरफ से घेर लिया। हमेशा दूसरों के चेहरे पर मुस्कुराहट लाने की कोशिश की। शायद किस्मत में इतने सारे दुख लिखवा कर लाई थी। सभी ने इसी बात का फायदा उठाया।

Agra News in Hindi (आगरा समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर