मथुरा में पुलिस दल पर हुआ अटैक, सिपाही ने बामुश्किल भागकर बचाई अपनी जान

Police team attacked in Mathura: उत्तर प्रदेश के मथुरा में यूपी 'यूपी-100' टीम के होमगार्ड व सिपाही पर हमला बोल दिया गया जिसमें उन्हें भागकर अपनी जान बचानी पड़ी।

Representational Image
प्रतीकात्मक फोटो 

मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में शुक्रवार की शाम कोसीकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में दो पक्षों में हो रहे झगडे़ में बीच-बचाव कराने का प्रयास करने पर एक पक्ष के आरोपियों ने 'यूपी-100' टीम के होमगार्ड व सिपाही पर हमला बोल दिया। हमले में होमगार्ड घायल हो गया, जबकि सिपाही ने वहां से भागकर जान बचाई। इस मामले में पुलिस नामजद मुकदमा दर्ज कर तीन हमलावरों की तलाश में जुटी हुई है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने बताया, 'कोसीकलां थाना क्षेत्र के गांव फूलगढ़ी में रिंकू व ओमी में बच्चों के बाल कटाने के मसले पर झगड़ा हो गया था, जिसे गांव वालों ने समझा-बुझाकर मामला निपटा दिया। लेकिन जब रात होते-होते वे लोग दोबारा भिड़ गए तो गांव वालों ने पुलिस को बुला लिया।

मौके पर पहुंचे पीआरवी ड्यूटी पर तैनात सिपाही जबर सिंह व होमगार्ड चंद्रशेखर ने दोनों पक्षों को समझा कर मामला शांत करा दिया और सुबह थाने आ कर अपनी-अपनी बात रखने की सलाह दी।'

होमगार्ड चंद्रशेखर ग्रामीणों के बीच घिर गया,उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया

उन्होंने बताया, 'लेकिन वे जैसे वापसी के लिए पलटे, ओमी व उसके पक्ष के भंवरी आदि ने रिंकू पर लाठी-डण्डों से हमला कर दिया। सिपाही जबर सिंह व होमगार्ड चंद्रशेखर ने जब वापस पहुंचकर बीच-बचाव कराना चाहा तो हमलावरों ने उन पर भी हमला कर दिया। सिपाही ने तो वहां से भागकर जान बचा ली जबकि होमगार्ड चंद्रशेखर ग्रामीणों के बीच घिर गया। उसके हाथों व सिर में काफी चोटें आई हैं। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।'

सूचना मिलने के बाद सीओ जगदीश कालीरमन, इंस्पेक्टर प्रमोद पंवार फोर्स लेकर वहां पहुंचे और हमलावरों की तलाश की। घायल होमगार्ड चंद्रशेखर की शिकायत पर आरोपी ओमी, भंवरी व उसके पुत्र शिब्बू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनके सभी संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

अगली खबर