SN Medical College: आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में अल्ट्रासाउंड के लिए करना पड़ रहा लंबा इंतजार

SN Medical College: आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में अल्ट्रासाउंड कराने के लिए एक महीने बाद की तारीख दी जा रही है। ऐसे में मरीजों को काफी परेशानी हो रही है।

SN Medical College
एसएन मेडिकल कॉलेज  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में अल्ट्रासाउंड के लिए करना होगा इंतजार
  • अल्ट्रासाउंड के लिए एक महीने बाद की मिल रही तारीख
  • चिकित्सक और स्टाफ की कमी के कारण दो मशीन ही हो रही संचालित

Agra SN Medical College: आगरा के सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज में अल्ट्रासाउंड कराने के लिए मरीजों को चक्कर काटने पड़ रहे हैं। मरीजों को महीनेभर की तारीख मिल रही है। इससे मरीजों को परेशानी हो रही है। लंबी डेट मिलने से कई मरीज निजी सेंटरों पर जांच कराने लिए मजबूर हैं। एसएन मेडिकल कॉलेज के रेडियो डायग्नोसिस सेंटर में अल्ट्रासाउंड के लिए चार मशीनें हैं, लेकिन चिकित्सक और स्टाफ की कमी के कारण दो मशीन ही संचालित हैं।

विभाग में विभिन्न मर्ज के अल्ट्रासाउंड कराने के लिए 80 से 100 मरीज आ रहे हैं। इसमें पेट रोग के मरीजों की संख्या अधिक है। इनमें से 50 से 60 मरीजों के ही अल्ट्रासाउंड हो रहे हैं। बाकी के मरीजों को महीने भर आगे की तारीख दी जा रही है। 

गंभीर मरीजों की प्राथमिकता पर अल्ट्रासाउंड 

तकलीफ अधिक होने का हवाला देने पर भी नजदीक की तारीख नहीं दी जाती, ऐसे में कई मरीज निजी सेंटरों पर जांच के कराने को मजबूर हैं। प्राचार्य डॉ. प्रशांत गुप्ता का कहना है कि भर्ती मरीज और गंभीर मरीजों की प्राथमिकता पर अल्ट्रासाउंड कराते हैं। मरीज अधिक हैं और स्टाफ की कमी से आगे की तारीख देनी पड़ती है। दो चिकित्सकों की नियुक्ति हो गई है। जल्द चारों मशीनें शुरू करा दी जाएंगी।

मरीजों की पीड़ा

पथौली के रहने वाले हरिओम सिंह ने कहा कि मेरे पेट में दर्द रहता है। ओपीडी में डॉक्टर को दिखाने पर अल्ट्रासाउंड कराके रिपोर्ट दिखाने के लिए कहा है। सेंटर पर अल्ट्रासाउंड करवाने गया तो 13 जुलाई की तारीख दी है। परेशानी अधिक होने का हवाला दिया, तो कहा कि इससे पहले जांच नहीं हो पाएगी। दर्द से बुरा हाल है, प्राइवेट में जांच करानी पड़ेगी। 

महीनेभर बाद अल्ट्रासाउंड के लिए कहा

खेरागढ़ के रहने वाले मनीष कुमार ने कहा कि मेरे पांच साल के बेटे के पेट में तकलीफ है। दर्द बताता है। एसएन में ही इलाज चल रहा है, जब दवाओं से आराम नहीं मिला तो अल्ट्रासाउंड कराने के लिए कहा। यहां महीनेभर आगे की तारीख दे रहे थे। लेकिन बच्चे की पीड़ा बताई तो 20 जुलाई की तारीख दे दी। इतने दिन बच्चे की तकलीफ कैसे देखूं। 
 

Agra News in Hindi (आगरा समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर