ठोढ़ी के पास लगाई राइफल की नाल और चला दी गोली...सिर के उड़ गए परखच्चे, आगरा में मुख्य आरक्षी ने की आत्महत्या

Suicide In Agra: आगरा में ट्रैफिक पुलिस के सिपाही ने खुद की राइफल से गोली मारकर खुदकुशी कर ली। पत्नी ने कमरे में लहूलुहान हालत में शव पड़ा देखा तो चीख निकल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

Suicide In Agra
आगरा में मुख्य आरक्षी ने गोली मारकर की आत्महत्या  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • आगरा में ट्रैफिक पुलिस के सिपाही ने की खुदकुशी
  • मुख्य आरक्षी ने लाइसेंसी राइफल से खुद को मारी गोली
  • आत्महत्या करने की वजह का खुलासा नहीं

Suicide In Agra: आगरा जिले के थाना एत्माद्दौला इलाके में ट्रैफिक पुलिस के सिपाही (मुख्य आरक्षी) ने शुक्रवार की सुबह लाइसेंसी राइफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घर में परिवार के सभी सदस्य सो रहे थे, गोली चलने की आवाज सुनकर उठे, तो ट्रैफिक पुलिस के सिपाही लहूलुहान हालत में नीचे पड़े थे। यह देख परिजनों में चीख पुकार मच गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने जांच पड़ताल की और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने मृतक की पत्नी से भी पूछताछ की, लेकिन अभी तक आत्महत्या करने की वजह का खुलासा नहीं हो पाया है। 

जानकारी के अनुसार, आगरा के सौ फुटा मार्ग कालिंदी विहार स्थित बिहारी कुंज में शुक्रवार की सुबह मुख्य आरक्षी चालक कुबेर सिंह यादव (59) ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। 

कुबेर सिंह ने ठोढ़ी के पास नाल रखकर गोली चलाई 

जिस समय कुबेर सिंह ने यह खौफनाक कदम उठाया, उस दौरान घर में परिवार के सभी सदस्य सो रहे थे। अचानक कुबेर सिंह से आत्महत्या की। कुबेर सिंह ने अपनी लाइसेंसी राइफल से ठोढ़ी के पास नाल रखकर गोली चला दी, जिससे गोली आर-पार हो गई और सिर के परखच्चे उड़ गए। राइफल की गोली छत से टकराई, गोली की आवाज सुनकर पत्नी जागी तो उन्होंने कुबेर सिंह को नीचे लहूलुहान हालत में पड़ा देखा। यह देख उनकी चीख निकल गई। इसके बाद परिवार के अन्य सदस्य भी जग गए। 

इंजीनियर बेटा लखनऊ में तैनात 

पुलिस ने बताया कि मूल रूप से इटावा के राजा का नगला के रहने वाले मुख्य आरक्षी चालक वर्तमान में ट्रैफिक लाइन में तैनात थे। वह क्रेन चलाते थे। सुबह नौ से रात नौ बजे तक कुबरे की ड्यूटी रहती थी। बताया गया है कि उनके चार बच्चे हैं। तीन बेटी हैं और एक बेटा है। सभी की शादी हो गई है। इंजीनियर बेटा लखनऊ में तैनात है। पुलिस के अनुसार, पत्नी चंद्रकांति की रात करीब साढ़े तीन बजे गोली की आवाज सुनकर नींद खुली। कमरे में जाकर देखा तो कुबेर सिंह यादव का खून से लथपथ शव पड़ा था। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। इंस्पेक्टर एत्मादुद्दौला विनोद यादव के अनुसार, मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। लाइसेंसी राइफल से गोली चलाई गई थी, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 
 

Agra News in Hindi (आगरा समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर