Mumbai News: डेढ़ करोड़ फिरौती के लिए करोबारी के बेटे का अपहरण, 200 पुलिसवालों ने 75 घंटे में ढूंढ निकाला

Mumbai News: ठाणे के एक कारोबारी के किडनैप किए गए 12 साल के बेटे को पुलिस ने सही सलामत छुड़ा लिया है। बच्‍चे को बचाने और अपहरणकर्ताओं को पकड़ने के लिए पुलिस की 20 टीमों में शामिल 200 पुलिसकर्मी इस अभियान में जुटे थे। आरोपियों को पालघर के एक जंगल में बने घर से दबोच गया। पकडे़ गए सभी अपहरणकर्ता गुजरात के रहने वाले हैं। इन आरोपियों पर पहले से डबल मर्डर, डकैती, शराब तस्करी जैसे कई मामले दर्ज हैं।

Updated Nov 14, 2022 | 08:18 PM IST

undefined

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस अभियान की जानकारी देते ठाणे पुलिस आयुक्‍त

तस्वीर साभार : Twitter
मुख्य बातें
  • आरोपियों ने ट्यूशन जाते हुए किया था कारोबारी के बेटा को किडनैप
  • सभी अपहरणकर्ता गुजरात के, आरोपियों पर पहले से दर्ज कई संगीन मामले
  • आरोपियों को पकड़ने के लिए 200 पुलिसकर्मी लगे थे, एक घर से सभी को दबोचा
Mumbai News : ठाणे के एक कारोबारी के किडनैप किए गए 12 साल के बेटे को ठाणे पुलिस ने छुड़ा लिया है। पुलिस को यह सफलता 75 घंटे में ही मिल गई। आरोपी पुलिस से बचने के लिए बच्‍चे को लेकर नासिक, पालघर, सिल्वासा और गुजरात के सूरत तक भागते रहे। वहीं, बच्‍चे को बचाने और अपहरणकर्ताओं को पकड़ने के लिए पुलिस की 20 टीमों में शामिल 200 पुलिसकर्मी इनके पीछे लगे रहे और आखिरकर इन्‍हें पालघर के एक जंगल से दबोच लिया। पकडे़ गए सभी अपहरणकर्ता गुजरात के रहने वाले हैं। इन आरोपियों पर पहले से डबल मर्डर, डकैती, शराब तस्करी जैसे कई मामले दर्ज हैं।
ठाणे पुलिस के वरिष्ठ निरीक्षक एस बगडे ने बताया कि, आरोपियों ने एमआईडीसी परिसर में रहने वाले रंजीत झा के बेटे रुद्र का मिलाप नगर में ट्यूशन पढ़ने जाते समय किडनैप कर लिया था। जब बेटा समय पर घर पर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। इसी दौरान परिजनों के पास एक फोन आया, जिसमें उनके बेटे से बात करवाकर किडनैपरों ने डेढ़ करोड़ रुपये फिरौती की मांग की। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस की 20 टीमें बनाई गई थी। इन टीमों को हर जगह भेजा गया। फोन करने वाले के स्थान को भी ट्रैक किया। इस दौरान पुलिस को भनक लगी की आरोपी नासिक पार कर पालघर की ओर मुड़ गए है। जिसके बाद स्थानीय पुलिस से मदद मांगकर आरोपियों को रोकने की कोशिश की गई।

पुलिस ने की कार की पहचान तो भाग गए जंगल में

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, इस दौरान आरोपियों को भी भनक लग गई थी कि पुलिस ने उनकी कार पहचान ली है, इसलिए वे कार को बीच में ही छोड़ अपहृत बच्चे के साथ जंगल में भाग गए। इसके बाद पुलिस ने स्थानीय निवासियों की मदद से जंगल में तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान पुलिस को पालघर के एक घर के बारे में पता चला। जब वहां छापा मारा गया तो वह सभी आरापी वहीं छिपे मिलें। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर बच्चे को सुरक्षित बचा लिया। पुलिस ने बताया कि, आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 364 (ए) और 385 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों से पूछताछ कर पूरे साजिश का पता लगाया जा रहा है।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें ( Hindi News ) अब हिंदी में पढ़ें | मुंबई ( cities News ) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों ( Latest Hindi News ) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

Aaj Ka Ank Rashifal, 01 February 2023: आज इन 5 बर्थ डेट वाले लोगों की चमकेगी किस्मत

Jaya Ekadashi Vrat Katha In Hindi: जया एकादशी व्रत की कथा हिंदी में यहां पढ़ें

अनंत अंबानी और राधिका ने किए श्री काशी विश्वनाथ बाबा के दर्शन, अनंत बोले-'बाबा का धाम अद्भुत'

Union Budget 2023: ऐसी घोषणाएं जो टैक्सपेयर्स को अच्छी लगेंगी, बजट में हो सकती हैं ये चीजें

BJP शासित MP में अब उमा भारती स्टाइल में आएंगे 'अच्छे दिन'! बोलीं- मधुशालाओं को गौशालाओं में बदला जाएगा

IND vs NZ: आखिरी टी20 से पहले बोले सूर्यकुमार, इकाना पिच विवाद से सीखा अहम सबक

Delhi Mumbai Expressway: देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे, ये हैं इसकी खासियतें-VIDEO

Mutual Fund में अब और जल्दी निकल सकेगा आपका पैसा, Unit बेचने के बाद दो दिन में आ जाएगी रकम

अगली खबर